सावधान! यहां बढ़ रहा कोरोना का अनजान खतरा

जबलपुर में 80 कोरोना संक्रमितों की है अननोन हिस्ट्री, सम्पर्क में आकर 100 और पॉजिटिव हुए

By: shyam bihari

Published: 07 Jul 2020, 08:41 PM IST

जबलपुर। कोरोना के फैलाव के साथ ही जबलपुर में संक्रमण का अनजान खतरा बढ़ता जा रहा है। जबलपुर जिले में अभी तक मिले अनजान हिस्ट्री वाले कोरोना पॉजिटिव केस की संख्या करीब 80 है। चिंता वाली बात ये है कि संक्रमितों की चेन में सबसे ज्यादा नए पॉजिटिव इन्हीं 80 केस से जुड़े हैं, जिनकी संख्या करीब 100 है। यदि अनजान हिस्ट्री वाले और उनसे सम्पर्क में आकर संक्रमित हुए केस जोड़ लिए जाएं तो यह आंकड़ा कुल पॉजिटिव केस के तकरीबन आधा है। इससे सामुदायिक संक्रमण के फैलाव की आशंका बन गई है। जैसे-जैसे जनजीवन सामान्य हो रहा है और भीड़ बढ़ रही कोरोना के नए मामले में भी बढ़ रहे हैं। अब 8-9 दिन में ही पचास नए कोरोना संक्रमित मिल रहे हैं। विशेषज्ञ चिकित्सकों का मानना है कि प्रत्येक व्यक्ति सावधानी और सुरक्षा रखेंगे, तभी कोरोना को मात देना मुमकिन होगा। आम लोगों की आदत में बदलाव नहीं लाने पर कोरोना की चेन टूटना मुश्किल होगा।

शहर में कोरोना सबसे पहले एक साथ एक पॉश और एक घनी आबादी वाले इलाके में पहुंचा था। पॉश एरिया में संक्रमण पनप नहीं सका। लेकिन घनी आबादी वाले क्षेत्र में संक्रमण के तीन मामले आने के बाद यह फैलता चला गया। लॉकडाउन तक ग्रामीण क्षेत्र के ज्यादातर हिस्से सुरक्षित रहे। लेकिन जैसे ही आवाजाही की अनुमति मिले और अन्य राज्यों एवं शहरों से आवागमन शुरु हुआ संक्रमण के मामले बढऩे लगे। कुछ ही दिन में शहर के अलग-अलग हिस्सों के साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना पहुंच गया। अब नए केस नए क्षेत्र में मिलने के साथ ही पुराने और कोरोना मुक्त हो चुके कन्टेन्मेन्ट जोन में भी संक्रमित मिल रहे हैं।
सर्विस प्रोवाइडर भी चपेट में आए
संक्रमण के रोकथाम का मोर्चा सम्भाल रहे लोग भी कोरोना की चपेट में आए है। सेना के कैम्प सहित कुछ सरकारी विभागों में कर्मी पॉजिटिव मिले हैं। फुहारा से लगे सराफा, निवाडग़ंज, हनुमानताल, बड़ी खेरमाई मंदिर, मढ़ाताल गुरुद्वारा के आसपास के क्षेत्रों में कुछ कारोबारी हाल ही में संक्रमित मिले हैं। इसके अलावा हॉस्पिटल स्टाफ, गैस एजेंसी के मैनेजर, फॉर्मासिस्ट, दंत सहायक, सब्जी वाले, एसी मैकेनिक सहित कुछ अन्य सर्विस सेक्टर से जुड़े व्यक्ति भी संक्रमित हुए हैं।
पता नहीं कर सकें स्त्रोत
सराफा में संक्रमण का पता लगाने और दरहाई सहित कुछ क्षेत्र में पॉजिटिव केस मिलने के बाद प्रशासन की मुस्तैदी और आम लोगों के सहयोग से कोरोना पर काफी हद तक नियंत्रण पा लिया गया था। लेकिन हनुमानताल क्षेत्र में एक महिला की मौत के बाद आयी कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट के बाद हालात बिगड़े। संक्रमितों की संख्या में अचानक वृद्धि हुई। लेकिन मृतक महिला को हुए संक्रमण का स्त्रोत अभी तक ज्ञात नहीं हो सका।
आंकड़ों का आइना
- 80 से ज्यादा संक्रमितों की हिस्ट्री अनजान। इनके सम्पर्क में आकर 100 से ज्यादा व्यक्ति पॉजिटिव हुए।
- 04 संक्रमित की फोरेन ट्रैवल हिस्ट्री। इसमें 3 व्यक्ति के सम्पर्क में आकर 35 से ज्यादा लोग पॉजिटिव।
- 50 से ज्यादा व्यक्तियों की डोमेस्टिक ट्रेवल हिस्ट्री। इसमें फ्लाइट, ट्रेन, ट्रक, कार व अन्य साधन शामिल।
- 30 से ज्यादा लोग डोमेस्ट्रिक ट्रेवल हिस्ट्री वालों पॉजिटिव के सम्पर्क में आकर कोरोना संक्रमित हुए हैं।
- 13 के करीब कारोबारी संक्रमित हुए। इनके सम्पर्क में आएकर्मी, दोस्त सहित करीब 32 लोग पॉजिटिव।
- 10 से ज्यादा सर्विस प्रोवाइडर संक्रमित। इनके सम्पर्क में आए करीब इतने ही सहकर्मी व अन्य पॉजिटिव।

shyam bihari Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned