सावधान! यू-ट्यूब भी चुरा रहे जालसाज

स्टेट साइबर सेल ने हाईप्रोफाइल प्रकरण को जांच में लिया

By: santosh singh

Published: 07 Jul 2020, 11:08 AM IST

जबलपुर. सम्पत्ति की तरह अब वर्चुअल साइट्स चोरी (हैक) होने लगी हैं। अपनी तरह का यह अलग मामला सामने आया है। जालसाज ने लोकसंगीत से जुड़े एक गायक का यू-ट्यूब चैनल हैक कर उसका स्वामित्व अपने नाम कर लिया। उस पर लोड वीडियो और 10 हजार यूजर को एक झटके में अपना फॉलोअर बना लिया। यू-ट्यूब से होने वाली कमाई अब जालसाल को हो रही है। पीडि़त की शिकायत पर स्टेट साइबर सेल ने इस हाईप्रोफाइल प्रकरण को जांच में लिया है।
जानकारी के अनुसार शहर के एक लोकगीत गायक ने बताया कि वे लोकगीत लिख और गाकर एलबम तैयार करते हैं। इस लोकगीत का नाट्यरूपांतरण भी करते हैं। उन्होंने इसके लिए अपना यू-ट्यूब चैनल भी बनाया था। इसी पर वे अपने लोकगीत लांच करते थे। भक्ति से सम्बंधित लोकगीत के चलते जल्द ही उनके फॉलोअर की संख्या 10 हजार पार हो गई। उन्हें यू-ट्यूब चैनल से हर महीने एक निश्चित आय भी होने लगी। कुछ दिन पहले ही देखा कि उनका यू-ट्यूब चैनल किसी ने हैक करके अपना स्वामित्व दर्शा दिया है। उसके यूजर-पासवर्ड सब चेंज हो गए हैं।
जांच में ये आया सामने
स्टेट साइबर सेल ने मामले को जांच में लिया, तो पता चला कि आरोपी ने ई-मेल के जरिए यू-ट्यूब चैनल हैक किया है। यू-ट्यूब चैनल बनाने के लिए ई-मेल का उपयोग होता है। इसी का पासवर्ड यू-ट्यूब चैनल में भी प्रयोग होता है। निरीक्षक हरिओम दीक्षित ने बताया कि अक्सर ई-मेल का पासवर्ड लोग मोबाइल नम्बर, नाम की स्पेलिंग, जन्मतिथि आदि का बनाते हैं, जो जालसाजों को तोडऩे के लिए आसान होता है। इस मामले में भी यही हुआ था। कमजोर ई-मेल पासवर्ड के चलते यू-ट्यूब चैनल हैक हुआ।
वर्जन
यू-ट्यूब चैनल हैक कर स्वामित्व बदलने की शिकायत की जांच की जा रही है। कोई भी यू-ट्यूब चैनल या वर्चुअल साइट्स पर कोई अकाउंट बनाता है, तो उसे स्ट्रांग पासवर्ड रखना चाहिए।
अंकित शुक्ला, एसपी, स्टेट साइबर सेल

 

Show More
santosh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned