सीबीआइ ने एफसीआइ के मैनेजर को 50 हजार रिश्वत लेते दबोचा

दो हजार टन गेहूं डिपो से बाहर निकालने की एवज में मांगी थी रिश्वत जबलपुर सीबीआई को 2 दिन पहले मिली शिकायत

By: santosh singh

Published: 13 Mar 2019, 11:37 AM IST

जबलपुर. सीबीआइ जबलपुर ने मंगलवार को टीकमगढ़ के निवाड़ी में भारतीय खाद्य निगम के डिपो मैनेजर को 50 हजार की रिश्वत लेते दबोच लिया। मैनेजर ने उक्त रकम बीना की एक फर्म संचालक से मांगी थी। इसकी शिकायत फर्म संचालक ने सीबीआई में दो दिन पहले की थी। दो हजार टन गेहूं रिलीज करने के एवज में उसने 90 हजार रुपए की मांग की थी।

दो हजार टन गेहूं रिलीज का आर्डर के एवज में पैसे की मांग

सीबीआइ एसपी पीके पांडे ने बताया कि आरबी ग्रुप बीना की फर्म ने शिकायत कर बताया था कि टीकमगढ़ के निवाड़ी स्थित भारतीय खाद्य निगम के डिपो मैनेजर विनोद कुमार द्वारा रिश्वत की मांग की जा रही है। फर्म के नाम पर दो हजार टन गेहूं रिलीज का आर्डर जारी हो गया था, लेकिन डिपो मैनेजर इसके एवज में पैसे की मांग कर रहा था। सीबीआइ ने शिकायत के बाद दोनों की बातचीत को ट्रैप कराया। इसके बाद उसे दबोचने के लिए जाल बिछाया। मंगलवार को सीबीआइ की टीम निवाड़ी पहुंची। विनो कुमार ने फर्म संचालक से पैसे लेने के लिए अपने असिस्टेंट को भेजा। जैसे ही असिस्टेंट ने रिश्वत की रकम ली, वहां मौजूद सीबीआइ टीम ने उसे दबोच लिया। सीबीआइ ने डिपो मैनेजर सहित उसके असिस्टेंट को भी सह आरोपी बनाया है। दोनों के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम का प्रकरण दर्ज करते हुए मौके पर ही जमानत दे दी।

santosh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned