गुरु पूर्णिमा पर चंद्र ग्रहण का संयोग, इन ग्रहों से बिगड़ेंगे सारे काम-पंचांग

गुरु पूर्णिमा पर चंद्र ग्रहण का संयोग, इन ग्रहों से बिगड़ेंगे सारे काम-पंचांग
chandra grahan

Lalit Kumar Kosta | Updated: 16 Jul 2019, 09:45:10 AM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

राहुकाल: दोपहर 3.00.00 बजे से 4.30.00 बजे तक

जबलपुर। शुभ विक्रम संवत् : 2076, संवत्सर का नाम : परिधावी्, शाके संवत् : 1941, हिजरी संवत् : 1440, मु.मास: जिल्काद तारीख 12, अयन : उत्तरायण, ऋतु ग्रीष्म, मास : आषाढ़, पक्ष : शुक्ल, तिथि - पूर्णा तिथि पूर्णिमा रात्रि 1.52 तक उपरंात नंदा तिथि प्रतिपदा रहेगी। पूर्णा तिथि में सभी प्रकार के मांगलिक कार्य शुभ तथा मंगलकारी माने जाते हैं। पंचमीं तिथि में सभी प्रकार के शुभ तथा मांगलिक कार्य सुखद रहते हैं, विवाह, क्रयविक्रय, पशुपालन, चंचलकार्य, ग्रहप्रवेश, कर्जनिपटारा, गहारंभ, यात्रा तथा अनाज भंडारण जैसे कार्य शुभ रहेंगे।
योग- रात्रि 4.1 तक वैधृति उपरंात विष्कुंभ योग रहेगा। योग गणना सामान्य है दैनिक कार्य हेतु शुभ रहेगी।
विशिष्ट योगर्- आज प्रसूति स्नान, कर्ज निपटारा, वरकन्या वरण, उपनयन, क्रय विक्रय से जुड़े कार्य अत्यंत शुभ रहेंगे।
करण- सूर्योदय काल से विष्टि उपरंात वालव तदनंतर तैतिल करण का प्रवेश होगा करण सामान्य है।

 

नक्षत्र- उग्र क्रूरसंज्ञक ऊध्र्वमुख नक्षत्र पूर्वाषाढ़ रात्रि 8.41 तक उपरंात उत्तराषाढ़ नक्षत्र रहेगा। पूर्वाषाढ़ नक्षत्र में यात्रा, सवारी, कारीगरी, काष्ठकला, शंाति पुष्टता, साहित्य, पौधरोपण, कृषिकार्य तथा बागवानी से जुड़े कार्य अत्यंत शुभ तथा सुखद माने जाते हैं। इस नक्षत्र में सभी प्रकार के व्यावसायिक गतिविधि से जुड़े कार्य शुभ फलकारी माने जाते हैं।
शुभ मुहूर्त - आज औषधि सेवन, कर्जनिपटारा, तीर्थदर्शन, मित्र मिलन, पत्र लेखन, सेवारंभ, शस्त्र निर्माण, शस्त्र साधना तथा कूटनीति जैसे कार्य हेतु आज का दिन शुभ रहेगा।
श्रेष्ठ चौघडि़ए - आज प्रात: 9.00 से 10.30 चर, दोपहर 10.30 से 1.30 लाभ, अमृत तथा रात्रि 7.30 से 9.00 लाभ की चौघडिय़ा शुभ तथा मंगलकारी मानी जाती है।
व्रतोत्सव- आज खंडग्रास चन्द्रग्रहण के साथ आषाढ़ पूर्णिमा, व्यास पूर्णिमा, तथा स्नान दान पूर्णिमा का व्रत व्रतोत्सव पर्व रहेगा।
चन्द्रमा : रात्रि 3.8 तक धनु राशि मे उपरंात शनि प्रधान राशि मकर राशि में संचरण करेगा।

 

ग्रह राशि नक्षत्र परिवर्तन: सूर्य के मिथुन राशि में गुरु वृश्चिक राशि में तथा शनि धनु राशि के साथ सभी ग्रह यथा राशि पर स्थित हैं। सूर्य का पुनर्वसु नक्षत्र में संचरण रहेगा।
दिशाशूल: आज का दिशाशूल उत्तर दिशा में रहता है, इस दिशा की व्यापारिक यात्रा को यथा संभव टालना हितकर है। चन्द्रमा का वास उत्तर दिशा में है, सन्मुख एवं दाहिना चन्द्रमा शुभ माना जाता है।
राहुकाल: दोपहर 3.00.00 बजे से 4.30.00 बजे तक। (शुभ कार्य के लिए वर्जित)
आज जन्म लेने वाले बच्चे - आज जन्मे बालकों का नामाक्षर भू,ध,फ अक्षर से आरंभ कर सकते हैं। पूर्वाषाढ़ नक्षत्र में जन्मे बालकों की राशि धनु होगी, राशि स्वामी गुरु तथा ताम्रपाद पाया में जन्म माना जाएगा। धनु राशि के जातक प्राय: तेजस्वी, निपुण, गीत संगीत में रुचि रखने वाले, परिवार के हितैषी, समरसता में विश्वाश रखने वाले, धार्मिक भावनाओं से ओतप्रोत, तथा अत्यंत स्वाभिमानी प्रवृत्ति के तथा सेवाभावी स्वभाव के होते हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned