मनमाने बिजली बिलों के विरोध में कांग्रेस का नगरबंद, दिखा मिला-जुला असर

मनमाने बिजली बिलों के विरोध में कांग्रेस का नगरबंद, दिखा मिला-जुला असर

deepak deewan | Publish: Dec, 07 2017 11:56:31 AM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

- जबलपुर के अधिकांश बाजार बंद पर स्कूल-कालेजों पर नहीं है बंद का असर

जबलपुर। मनमाने बिजली बिलों के विरोध में कांग्रेस के नगर बंद का मिला जुला असर देखा जा रहा है। शहर के अधिकांश बाजार सुबह से ही बंद हैं, हालांकि चाय-नाश्ते की होटलें गुमठियां खुली हुई है। स्कूल-कालेजों पर भी बंद का असर नहीं पड़ा है।

बिजली बिलों में मनमानी किए जाने के आरोप

मध्यप्रदेश पूर्व क्षेत्र विद्युत कंपनी द्वारा बिजली बिलों में मनमानी किए जाने के आरोप लगाए जा रहे हैं। मीटर भी बाहर लगाए जा रहे हैं। बिजली कंपनी की मनमानी से शहरवासी त्रस्त हैँ और कांग्रेस इसका राजनैतिक लाभ उठानी चाहती है। ऐसे में कांग्रेस ने शहर बंद का आव्हान किया जोकि फिलहाल आंशिक सफल दिख रहा है। जबलपुर में फेडको कंपनी को मीटर रीडिंग व बिलिंग का ठेका दिया गया है । कांग्रेसियों का कहना है कि ठेका देने के बाद बिजली के बिल बहुत ही ज्यादा आ रहे हैं। अनाप-शनाप बिजली बिल व मीटर रीडिंग में गड़बड़ी के मुद्दे पर जबलपुर बंद किया गया है।


दवा दुकानें खुली हैं
कांग्रेस द्वारा आहूत जबलपुर बंद का सुबह से मिलाजुला असर देखने मिल रहा है । गढ़ा में जहां मेडिकल की दुकानें खुली हुई हैं वहीं क्षेत्र में अन्य कई दुकानें और प्रतिष्ठान भी खुले हुए हैं । इधर बेदी नगर से प्रेमनगर और मदन महल चौराहे के आसपास का बाजार पूरी तरह बंद है। यहां सुबह कांग्रेस जनों ने पहुंचकर दुकानें बंद कराई।


चल रहा है आंदोलन
बिजली के बिल में वृद्धि को लेकर कांग्रेस द्वारा लगातार आंदोलन चलाया जा रहा है। जबलपुर बंद का आह्वान किया गया तो कई जगहों पर आमजनों ने भी इसका समर्थन किया था। गुरुवार को कांग्रेसी कार्यकर्ता सक्रिय हुए और अलग-अलग क्षेत्रों में निकल पड़े । मालवीय चौक के समीप भी कांग्रेस कार्यकर्ता पहुंचे और खुली हुई दुकानें बंद कराने की कोशिश की। बंद को देखते हुए काफी तादाद में पुलिस बल तैनात किया गया है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned