वित्त मंत्री का बड़ा बयान, अधिकारयों की दी हिदायत - देखे वीडियो

वित्त मंत्री का बड़ा बयान, अधिकारयों की दी हिदायत - देखे वीडियो

By: Lalit kostha

Published: 03 Jan 2019, 03:48 PM IST

जबलपुर। कलेक्टर कार्यालय में आज विभागीय समीक्षा बैठक में प्रदेश के वित्त मंत्री तरुण भनोट और सामाजिक न्याय एवं अनुसूचित जाति कल्याण मंत्री लखन कानवरिया भागीदारी कर रहे हैं। इसमें जिला प्रशासन नगर निगम और तमाम विभागों के अधिकारी भी शामिल हैं मंत्रियों के द्वारा नगर निगम जेडीए और जिला प्रशासन की योजनाओं के संबंध में समीक्षा की जा रही है।

बैठक की शुरुआत बरगी विधानसभा क्षेत्र के विधायक संजय यादव के द्वारा अपने क्षेत्र की समस्याओं से की गई। उनका कहना था कि गांव-गांव में शराब बिक रही है। नर्मदा का सीना छलनी किया जा रहा है। अधिकारियों से शिकायत करो तो वह सुनते नहीं है। खनिज विभाग के अधिकारियों को अगर अवैध उत्खनन की जानकारी दी जाती है तो वह माफियाओं से संपर्क कर उन्हें जानकारी दे देते हैं। ऐसे में शासन की योजनाओं को कैसे फलीभूत किया जा सकेगा। बैठक में मीडिया के प्रवेश पर प्रशासन द्वारा रोक लगाई गई है

 

पत्रकारवार्ता में कही बड़ी बात -
प्रदेश के वित्त मंत्री तरुण भनोट ने कहा कि जबलपुर शहर के सुनियोजित विकास में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी जाएगी। जो योजनाएं अधूरी है उन्हें पूरी की जाएंगी। इसमें समाज के सभी वर्गों का सहयोग लिया जाएगा। वकील डॉक्टर सीए पत्रकार और भाजपा के नेता भी शामिल होंगे। जो शहर विकास में सकारात्मक सोच रखते हैं।

जिला प्रशासन और नगर निगम के साथ ही जेडीए के अधिकारियों के साथ बैठक कर मंत्रियों ने ब्यौरा लिया। उन्होंने पत्रकार वार्ता में कहा कि सभी अधिकारियों को कहा गया है कि कोई भी काम अधूरे नहीं छोड़ें। अगर उन्हें सही लग रहा है तो वह अपने स्तर पर कार्य कर सकते हैं। बशर्ते उसमें कोई गड़बड़ी ना हो।
बैठक में सबसे बड़ा मुद्दा शहर की यातायात व्यवस्था का उठाया गया। जिसको ठीक करने के लिए प्रशासन को सख्त हिदायत दी गई है। उनका कहना था कि छोटे व्यापारियों को किसी तरह की परेशानियां ना ही आनी चाहिए। ठेला लगाने वाले व्यापार करने वाले लोगों की वैकल्पिक व्यवस्था किए बिना उन्हें हटाने पर आपत्ति की जाएगी।

congress minister big statement in madhya pradesh

उनका कहना था कि हम छोटी मानसिकता के साथ काम नहीं करेंगे सभी को साथ लेकर काम करना है अधिकारियों से भी आज कहा है कि उन्हें सिर्फ सुनना नहीं है शहर के विकास में जो योगदान दे सकते हैं जो उचित समझते हैं वह करें वित्त मंत्री ने कहा कि मां नर्मदा में मिलने वाले गंदे नालों को तुरंत बंद करने का कार्य शुरू किया जाएगा उनका कहना था कि पैसों के कारण कोई भी योजना अधूरी नहीं छोड़ी जाएगी
जबलपुर के संबंध में उनका कहना था कि शास्त्री ब्रिज का चौड़ीकरण किया जाना जरूरी है ताकि यातायात व्यवस्था सुधर सके इसके लिए 15 दिनों के अंदर कार्य योजना तैयार करके देने के लिए नगर निगम को कहा गया है
सभी पुराने बाजारों में अंडरग्राउंड केबल लगाई जानी चाहिए यह काम 2 माह में पूरा करने की बात कही है
मेडिकल यूनिवर्सिटी की जिस रूप में कल्पना की गई थी उसी आधार पर उसे बनाया जाना है इसके प्रयास किए जाएंगे वाइस चांसलर को इस संबंध में पूरी कार्ययोजना बनाने के लिए कहा गया और इसे हम जल्दी मुख्य मंत्री कमलनाथ के सामने रखेंगे
भनोट ने कहा की नगर निगम से कहा गया है कि टैक्स वसूली की जगह विकास पर ध्यान दिया जाए हम जो पहले से टैक्स देते आ रहे हैं उसका सदुपयोग हो उसके प्रयासों
नगर निगम को मोहल्ला समितियों को एक्टिव करने के लिए कहा गया उनसे विकास और कामों के बारे में फीडबैक लेने के लिए कहा है
पुलिस व्यवस्था को स्वर्ण करने की बात अधिकारियों से कही गई है उनसे कहा गया है कि किसी भी राजनीतिक दबाव के बगैर वह काम करें कोई राजनीतिक विचारधारा उनके कार्य में बाधा नहीं बने अपराधियों के बारे में उनसे कहा गया है कि वह अपराध करना छोड़ दें नहीं तो संस्कारधानी छोड़ दे उन्हें मध्य प्रदेश में भी नहीं रहने देंगे
वित्त मंत्री ने यह घोषणा भी की की आगामी दिनों में वह आम आदमी पर किसी तरह का भार नहीं आने देंगे आय के नए स्रोतों को बनाएंगे सरकारी खजाने के लीकेज को रोकना उनकी प्राथमिकता रहेगी उन्होंने जानकारी दी कि सभी विभागों से वित्तीय स्थिति की जानकारी मांगी गई है जितने कारपोरेशन है उनकी मेरिट लिस्ट भी मांगी गई है
उनका कहना था कि भ्रष्टाचार की कोई भी योजना चलने नहीं दी जाएगी
प्रदेश सरकार के कमजोर होने के सवाल पर उनका कहना था कि यह सरकार पूरे 5 साल चलेगी कमजोर भाजपा हुई है कांग्रेस नहीं हम 54 थे और 114 हो गए हैं वह 165 थे और 109 रह गए हैं इससे समझा सकता है कि कमजोर कौन हुआ है जनता को कुशासन से मुक्ति कांग्रेस ने दिलाई है
उनका कहना था कि कृषि का विकास शिक्षा की स्थिति में सुधार किसानों का आर्थिक कल्याण प्राथमिकता रहेगी
जबलपुर में स्थापित किसी भी संस्था को बाहर किसी भी कीमत में नहीं जाने दिया जाएगा और नई संस्था यहां लाई जाएं इसके प्रयास किए

Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned