सागर विवि व यूजीसी विधि विषय में पीएचडी आरम्भ करने पर करें विचार

हाइकोर्ट का निर्देश

 

By: prashant gadgil

Published: 29 May 2020, 11:21 PM IST

जबलपुर. मध्यप्रदेश हाईकोर्ट ने कहा कि डॉ. हरीसिंह गौर केंद्रीय विश्वविद्यालय, सागर व विश्वविद्यालय अनुदान आयोग विधि विषय से पीएचडी कोर्स संचालित करने पर विचार करें। जस्टिस संजय यादव व जस्टिस विशाल धगट की डिवीजन बेंच ने इस निर्देश के साथ एक जनहित याचिका का पटाक्षेप कर दिया। सागर निवासी सौरभ देशपांडे की ओर से कहा गया कि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) डॉ. हरीसिंह गौर केंद्रीय विश्वविद्यालय, सागर में विधि विषय से पीएचडी की सुविधा आरम्भ नहीं कर रहे हैं। इस विषय पर विचार किया जाए। शैक्षणिक सत्र 2020-21 से यह शुरू हो जाना चाहिए। इसके लिए डॉ. हरीसिंह गौर केंद्रीय विश्वविद्यालय के पाठ्यक्रम में पीएचडी को शामिल करना होगा। कुछ देर बहस के बाद याचिकाकर्ता की ओर से याचिका वापस लेना चाही गई। इसके बावजूद कोर्ट ने इस निर्देश के साथ निराकरण किया कि यूजीसी व यूनिवर्सिटी याचिकाकर्ता के अभ्यावेदन पर विचार करें। जस्टिस संजय यादव व जस्टिस विशाल धगट की डिवीजन बेंच ने इस निर्देश के साथ एक जनहित याचिका का पटाक्षेप कर दिया।

prashant gadgil Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned