corona death: जबलपुर में कोरोना से मौत के मामले बढ़े, सीएम शिवराज सिंह ने अधिकारियों से जताई चिंता

जबलपुर में कोरोना से मौत के मामले बढ़े, सीएम शिवराज सिंह ने अधिकारियों से जताई चिंता

By: Lalit kostha

Updated: 14 Jun 2020, 11:42 AM IST

जबलपुर। पाटन की 70 वर्षीय महिला की मौत के बाद शुक्रवार को रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव मिलने और इस महीने अभी तक चार संक्रमितों की मौत पर चिंतित मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को कलेक्ट्रेट में अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेन्सिंग में बातचीत की। शहर में कोरोना से मौत का आंकड़ा बढऩे पर समीक्षा की। मेडिकल कॉलेज में उपचार के दौरान दो मौत और उनके कोरोना संक्रमित होने को लेकर अधिकारियों से सवाल-जवाब किया। इस पर जिम्मेदारों ने निजी अस्पतालों को निशाने पर लिया। सीएम को बताया गया कि निजी अस्पतालों में कोरोना संदिग्धों की जांच नहीं कराई जा रही है। बाद में मरीज की हालत बिगडऩे पर मेडिकल अस्पताल रेफर किया जा रहा है। सीएम ने निजी अस्पतालों से समन्वय करके मरीजों का बेहतर उपचार सुनिश्चित करने कहा है।

 

death.jpg

निजी अस्पताल से रेफर होकर आई थी महिला
पाटन निवासी 70 वर्षीय जिस महिला की मेडिकल अस्पताल में भर्ती होने के बाद मौत हुई, उसे दो-तीन दिन से सांस लेने में परेशानी थी। परिजनों ने उसे आगा चौक स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया था। एक दिन तक उपचार के बाद भी जब महिला की हालत बिगडऩे लगी तो डॉक्टरों ने उसे मेडिकल रेफर किया। एम्बुलेंस में वेंटीलेटर लगाकर महिला मेडिकल अस्पताल पहुंची। संदिग्ध लक्षण होने पर महिला को कोरोना टेस्ट कराया गया। उसकी रिपोर्ट शुक्रवार को रात में आई। उससे पहले ही गम्भीर रुप से संक्रमित महिला की सुबह ही मौत हो चुकी थी। यह मामला सीएम की जानकारी में आया तो अधिकारियों से बातचीत की।

तीन सदस्यी कमेटी
सीएम की क्लास के बाद कलेक्टर ने डॉक्टरों की एक तीन सदस्यीय समिति के गठन का निर्देश दिया है। जानकारी के अनुसार यह कमेटी प्राइवेट अस्पतालों में कोविड मरीजों के भर्ती और उपचार के लिए उपलब्ध सुविधाओं की जांच करेगी।

Coronavirus Deaths
Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned