अखबार से नहीं फैलता कोरोना संक्रमण, डॉक्टर बोले दुनिया में एक भी मामला नहीं ऐसा

अखबार से नहीं फैलता कोरोना संक्रमण, डॉक्टर बोले दुनिया में एक भी मामला नहीं ऐसा

By: Lalit kostha

Published: 25 Mar 2020, 11:40 AM IST

जबलपुर/इंदौर/ सोशल मीडिया पर ऐसी खबरें प्रसारित हो रही हैं, अखबार से वायरस का संक्रमण फैलता है। यह बातें सरासर भ्रम फैलाने वाली हैं। एमजीएम मेडिकल कॉलेज के चेस्ट एंड टीबी विभाग के प्रमुख डॉ. सलिल भार्गव का कहना है, अखबार से कोरोना का फैलना तथ्यात्मक रूप से गलत है। विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि इस बात की संभावना नहीं के बराबर है कि एक संक्रमित व्यक्ति का छुआ हुआ अखबार भी संक्रमणग्रस्त हो जाएगा। इसका जोखिम भी बहुत कम है कि अखबार से किसी को कोरोना संक्रमण हो जाएगा क्योंकि कई तापमान से गुजरते हुए आपके घर तक पहुंचता है समाचार पत्र।

डॉक्टर बोले- अखबार से कोरोना संक्रमण का अब तक दुनिया में एक भी मामला नहीं आया
डॉ. भार्गव का कहना है, आपके इलाके में पहुंचने के बाद हॉकर अखबार आपके घर फेंकता है। बस इस दौरान वह हर अखबार को छूता है। उसके छू देने भर से पूरा अखबार संक्रमित हो जाएगा, यह संभव नहीं। उन्होंने बताया, इंसानी शरीर के बाहर वायरस लगातार कमजोर होता जाता है। उसे केवल छू लेने से आपके शरीर में नहीं पहुंच सकता। हां, अगर कोई चीज संक्रमित व्यक्ति के हाथों से होकर आपके हाथ में आई है और आप बिना हाथ धोए किए खाते या शरीर के हिस्सों को छुते हैं, तो ही संक्रमण का खतरा रहता है। मन से डर निकाल दें।

पत्रिका सेनिटाइज होकर छाप रहा समाचार पत्र
आपका समाचार पत्र पत्रिका पूरी तरह सुरक्षित है। यह पूर्ण ऑटोमैटिक मशीनों से प्रकाशित हो कर आप तक पहुंचता है। इस मशीने में इंसानी लोगों के छुए बिना ही अखबार छपता है। इसे मशीनों से ही पैक कर एजेन्ट तक पहुंचाया जाता है। इसके पहले छपाई के दौरान पत्रिका को सेनिटाइज भी किया जाता है। मशीनों में ही ऐसी व्यवस्था की गई है जिसमें छपाई के दौरान सेनिटाइज किया जाता है। पत्रिका सौ फीसदी सुरक्षित अखबार है। इसे पढ़ कर आप कोरोना से लड़ सकते हैं। शहर से लेकर देश भर की जानकारी जान सकते हैं।

Corona virus corona virus in india
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned