जबलपुर में कोरोना रिटर्न, 10 दिन में मिले इतने नए केस, शासन तक में मचा हड़कंप

-नेशनल हेल्थ मिशन की टीम पहुंची जबलपुर

By: Ajay Chaturvedi

Updated: 14 Sep 2021, 11:00 AM IST

जबलपुर. जिले में कोरोना संक्रमण तेज हो चला है। आलम यह है कि कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण व निगरानी के लिए एम्स भोपाल से नेशनल हेल्थ मिशन की टीम भी पहुंच गई है। कोरोना संक्रमण के केस लगातार मिलने से लोगों में भय व्याप्त है। स्थानीय प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग भी सक्रिय हो गया है।

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़े बताते हैं कि जबलपुर में कोरोना का कहर सा आ गया है। कयास लगाया जा रहा है कि जिले में कोरोना की तीसरी लहर की शुरूआत हो गई है। आलम यह है कि प्रदेश भर में जबलपुर में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं। इसके कारण जिला प्रशासन से लेकर स्वास्थ्य विभाग तक में हड़कंप मचा है। यही वजह है कि जिले का निरीक्षण करने तीन-तीन टीमें पहुंच गई हैं। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार पिछले 10 दिन में कोरोना के 80 नए केस आ चुके हैं। बता दें कि पिछली बार भी मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण की शुरूआत जबलपुर से ही हुई थी। ऐसे में शासन स्तर पर भी हड़कंप मचा है।

नेशनल हेल्थ मिशन, एम्स भोपाल और डॉक्टरों की एक टीम भोपाल से जबलपुर पहुंच गई हैं। ये टीम फिलहाल ये पता लगाने में जुटी है कि कहीं कोरोना की जांच में गड़बड़ी तो नहीं हो रही है, क्योंकि जब मध्य प्रदेश के अन्य जिलों सहित देश भर में कोरोना के केस में गिरावट बताई जा रही है तो जबलपुर में अचानक से पैनिक क्यों है? भोपाल से आई टीमें नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज की माइक्रोबायोलॉजी लैब का निरीक्षण करने वाली है। साथ ही जबलपुर में कोरोना की जांच का परीक्षण भी करेंगी और पूरी रिपोर्ट तैयार कर राज्य सरकार को भेजेंगी।

ये भी पढें- दो महीने बाद गाडरवारा में फिर मिला कोरोना संक्रमित

बताया जा रहा है कि जबलपुर में पिछले 10 दिन में ही कोरोना के 80 से ज्यादा मरीज सामने आ चुके हैं। फ़िलहाल करीब 63 मरीजों का इलाज चल रहा है। सरकारी आंकड़ों में तो रोजाना 6 से 10 मरीज बताए जा रहे हैं, लेकिन जानकारी के मुताबिक ये संख्या 30 से ज्यादा हैं। ऐसे में डॉक्टर इसे लेकर काफी चिंतित हैं।

Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned