Coronavirus Disease 2019 (COVID-19): चीन के वुहान से लौटे लडक़े ने 18 दिन खुद को घर में बंद रखा फिर ये निकला परिणाम

चीन के वुहान से लौटे लडक़े ने 18 दिन खुद को घर में बंद रखा फिर ये निकला परिणाम

 

जबलपुर। कोरोना वायरस का सबसे पहला मरीज चीन के वुहान शहर में ही मिला था। इसके बाद वहां लगातार मरीजों की संख्या फैलती गई। ये भी कहा जा रहा है कि कोरोना वायरस का मुख्य केन्द्र वुहान ही है। जहां से यह बीमारी पूरी दुनिया को प्रभावित कर रही है। जबलपुर शहर का एक लडक़ा जो डॉक्टरी की पढ़ाई करने चीन के वुहान शहर गया था, वह जब घर लौटा तो उसने एक ऐसी नजीर पेश की, जिसकी तारीफ पूरा शहर कर रहा है।

 

coronavirus

चीन के वुहान में मेडिकल की पढ़ाई कर रहे गोपाल सदन जबलपुर निवासी सृजन सोनी ने खुद को घर के एक कमरे में अठारह दिनों तक आइसोलेट रखा। उन्होंने कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे के प्रति लोगों को जागरूक करने व अपने परिवार के सदस्यों को खुद से दूर रखने की अनूठी नजीर पेश की है। सृजन की इस जीवटता की हौसला अफजाई करने कलेक्टर भरत यादव गुरुवार को सृजन के घर पहुंचे और उसे शाबासी दी।

 

Coronavirus Disease 2019 (COVID-19)

आइसोलेटेड रखकर पेश की नजीर
20 वर्षीय सृजन आठ फरवरी को चीन के वुहान प्रांत से कोलकाता और 10 फरवरी को जबलपुर पहुंचे थे। हालांकि, कोलकाता एयरपोर्ट पर हुई स्क्रीनिंग में वे निगेटिव पाए गए थे। जबलपुर पहुंचने पर स्वास्थ्य विभाग के अमले ने भी उनका सैम्पल लिया था और इससे भी उनके कोरोना वायरस के संक्रमण के लक्षण नहीं मिले थे। इसके बावजूद सृजन ने स्वास्थ्य विभाग के अमले की सलाह पर अपने आप को घर में ही लगातार 18 दिनों तक आइसोलेट कर रखा।

 

दो अस्पताल में भर्ती, एक होम आइसोलेटेड
मेडिकल और विक्टोरिया अस्पताल में जांच के दौरान तीन संदिग्ध मरीज सामने आए हैं। विदेश से लौटने की सूचना पर तीनों मरीज से स्वास्थ्य विभाग ने सम्पर्क किया तो उन्होंने स्वयं स्क्रीनिंग में सहयोग किया। इसमें मेडिकल अस्पताल में जांच के बाद लंदन से लौटी नयागांव निवासी एक महिला को 14 दिनों के लिए घर पर ही आइसोलेटेड किया है। थाइलैंड से लौटे एक 27 वर्षीय युवक के स्वास्थ्य परीक्षण के बाद नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं। जांच रिपोर्ट आते तक एहतियातन मेडिकल अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। न्यूजीलैंड में पढ़ाई कर रहा पचपेढ़ी निवासी एक युवक लौटने के बाद घर में आइसोलेटेड था। युवक की ट्रैवल हिस्ट्री में बीते एक महीने में जर्मनी, फ्रांस जाने की जानकारी सामने आयी है। गुरुवार को उसे जिला अस्पताल में के आइसोलेशन वाार्ड में भर्ती किया गया। जांच के लिए नमूने भेजे गए हैं।

Corona virus coronavirus COVID-19 COVID-19 virus
Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned