Coronavirus disease (COVID-19) अलर्ट के बाद भी खोले कोचिंग-जिम, लगा 10-10 हजार कर जुर्माना

होटल में ठहरे विदेशियों की जांच, कोचिंग सेंटर पर जुर्माना

 

By: Lalit kostha

Updated: 19 Mar 2020, 03:48 PM IST

जबलपुर में कोरोना वायरस का अब तक कोई पॉजिटिव मामला सामने नहीं आया है पर सर्तकता बरती जा रही है। बुधवार को शहर के रक्षा संस्थान में स्पेन से दो तकनीकि विशेषज्ञों की जांच की गई। वे बीते एक सप्ताह से ये सिविल लाइंस स्थित एक होटल में ठहरे थे। जांच में वे स्वस्थ्य पाए गए। त्रिपुर सुंदरी मंदिर में पूजन व नर्मदा महाआरती में अब पुजारी ही सम्मिलित होंगे। रोक के बाद भी कोचिंग सेंटर व जिम संचालित किए जाने पर दस हजार रुपए का स्पॉट फाइन प्रशासन की टीम ने लगाया।

मरीज को देखने नहीं आएं अस्पताल
लेडी एल्गिन हॉस्पिटल प्रबंधन ने भर्ती मरीजों और उनके नवजात शिशुओं से परिजनों से मिलने का समय चार घंटे से घटाकर दो घंटे कर दिया गया है। अब दिन में केवल दो घंटे ही परिजनों को भर्ती मरीजों से मिलने की अनुमति होगी। एक मरीज के पास एक ही परिजन के रुकने की अनुमति होगी। मेडिकल कॉलेज प्रबंधन ने भी गम्भीर मरीजों को ही अस्पताल आने की नसीहत दी है। चिकित्सकों के अनुसार जिनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती है, उन्हें कोरोना वायरस का संक्रमण का खतरा ज्यादा होता है।

 

ias_free_coaching.jpg

जिम पर 10-10 हजार का जुर्माना
कोचिंग सेंटर व जिम बंद रखने के निर्देश हैं। इसके बावजूद सेंटर खुले मिले। प्रशासन की टीम ने बल्देवबाग स्थित कुम्भारे हेल्थ क्लब व डब्लूएवाईजेड जिम संचालित पाए जाने पर दोनों सेंटर पर 10-10 हजार रुपये का स्पॉट फाइन लगाया गया। इसी प्रकार से विजय नगर स्थित ए प्लस एकेडमी कोचिंग सेंटर संचालित होत पाए जाने पर चालान की कार्रवाई की गई। तीनों सेंटर बंद कराए गए। निगम के अपर आयुक्त राकेश अयाची के अनुसार इनके खिलाफ प्रकरण दायर किए जाएंगे। शहर की अन्य संस्थाओं की भी जांच की जा रही है।

 

isolation camps for  <a href=coronavirus opened by BSF and CRPF in india" src="https://new-img.patrika.com/upload/2020/03/17/coronavirus2_5910298-m.jpg">
IMAGE CREDIT: patrika

साबुन से हाथ धोते रहें
जिला प्रशासन द्वारा जारी एडवायजरी के अनुसार स्वस्थ लोगों को मास्क लगाने की जरूरत नहीं है। लेकिन, सर्दी-खांसी, जुकाम से पीडि़त, संदिग्ध और संक्रमित मरीजों को मास्क लगाने के लिए कहा गया है। सेनेटाइजर के स्थान पर साफ पानी और साबुन से बार-बार हाथ धोने से भी संक्रमण से बचाव सम्भव है।

बजाएं कोरोना पर जागरुकता का जिंगल
पूर्व भाजपा पार्षदों ने नगर निगम आयुक्त संदीप जीआर से मांग रखी कि हर गली-मोहल्ले में मच्छरों के विनिष्टीकरण के लिए फॉगिंग व दवा का छिडक़ाव कराया जाए इसके साथ ही पानी की पाइप लाइन के विस्तार, सुधार कार्य और सडक़ों की मरम्मत कराने की भी मांग रखी गई।

coronavirus COVID-19 Covid-19 in india COVID-19 virus
Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned