scriptCouldn't handle 3500 saplings, now target of 1,00,000 taken | 3500 पौधे सम्भाल नहीं सके, अब लिया 1,00,000 का टारगेट | Patrika News

3500 पौधे सम्भाल नहीं सके, अब लिया 1,00,000 का टारगेट

अफसरों की बेतुकी दलील : लू ने की चौपट हरियाली, बचे पौधों को सम्भल रहे

जबलपुर

Published: July 12, 2022 11:38:59 am

जबलपुर . बारिश आते ही पौधरोपण कर हरियाली बढ़ाने का दावा तो किया जाता है लेकिन उसके पीछे की सच्चाई तो यह है कि पौधरोपण में लापरवाही बरती जाती है, जिससे पुराने पौधे तैयार हो नहीं पाते हैं और नए पौधे रोपने की तैयारी की जाती है, जिससे सालों से चल रहे पौधरोपण के बाद भी शहर हरा-भरा नहीं हो सका। मामले में अफसर बेतुकी दलील दे रहे हैं कि दरअसल, लू में पौधे नष्ट हो जाते हैं। बचे पौधों को सहेजा जाता है।

Couldn't handle 3500 saplings, now target of 1,00,000 taken
बारिश आते ही पौधरोपण कर हरियाली बढ़ाने का दावा तो किया जाता है लेकिन उसके पीछे की सच्चाई तो यह है कि पौधरोपण में लापरवाही बरती जाती है, जिससे पुराने पौधे तैयार हो नहीं पाते हैं

शहर में मदनमहल ही मात्र एक ऐसी जगह है, जहां किए गए पौधरोपण से हरियाली दिखाई दे रही है। गत वर्ष का डाटा देखा जाए तो ललपुर, आइएसबीटी, लोहिया पुल, विजयनगर, पचपेढ़ी आदि में करीब 3500 पौधे रोपे गए थे, जिसमें करीब बीस प्रतिशत पौधे गायब हो चुके हैं।

कमजोर सिंचाई

पौधों के नहीं पनपने के पीछे कमजोर सिंचाई सामने आ रही है। जानकार कहते हैं कि पौधे रोपने के बाद बारिश भर तो इन्हें पानी मिल जाता है लेकिन उसके बाद सिंचाई के लिए पानी की कोई व्यवस्था नहीं रहती है, जिससे ये पौधे नष्ट हो जाते हैं।

ड्रापिंग सिस्टम : सिंचाई के लिए पौधरोपण वाली जगहों पर ड्रापिंग सिस्टम नहीं लगाया जाता है, जिससे इन पौधों को समुचित पानी मिल सके। यह सिस्टम मदनमहल, डुमना नेचर पार्क आदि में लगाया गया है, जिससे यहां रोपे गए पौधे जीवित हैं।

इन डिवाइडर पर सूखी पौध

दीनदयाल- अहिंसा चौक

उखरी तिराहा- कछपुरा ब्रिज

कछपुरा ब्रिज- अंडरब्रिज

दमोहनाका- रद्दीचौकी

गत वर्ष पौधरोपण

ललपुर- 1500

आइएसबीटी- 1200

लोहियापुल- 500

विजयनगर- 100

पचपेढ़ी- 100

(नोट- इसके अलावा शहर के डिवाइडरों पर भी पौधे रोपे गए हैं।)

सडक़ के बाजू में बनाए प्वाइंट

नगर निगम के उद्यान विभाग ने इस बार पौधरोपण के लिए सडक़ के किनारे बची जगह पर पौधरोपण के लिए प्वाइंट बनाए हैं, जिनमें कुछ जगहों पर पौधे रोपे गए हैं और शेष जगहों पर करीब एक लाख पौधे रोपने का लक्ष्य है, जिसमें...

रामपुर-बादशाह हलवाई मंदिर- 1000

चंडालभाटा-दमोहनाका- 2000

पाटन रोड- 500

आइएसबीटी के सामने- 600

शताब्दीपुरम- 8000

डुमना नेचर पार्क- 4000

(टॉय टे्रन मार्ग, रेस्टहाउस, टॉवर-2 आदि जगहों पर पौधरोपण)

- गत वर्ष लगाए गए पौधे जीवित हैं। इस वर्ष करीब एक लाख पौधे रोपे जाएंगे ताकि शहर हरा-भरा हो। डिवाइडरों पर लू से पौधे नष्ट हो जाते हैं।

सुरेन्द्र मिश्रा, उद्यान अधिकारी, नगर निगम

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bilkis Bano Gang Rape: आजीवन कारावास की सजा काट रहे सभी 11 दोषी रिहा, राज्य सरकार की माफी योजना के तहत जेल से आए बाहरIndependence Day 2022: भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने पर इन देशों ने दी बधाईयां और कही ये बातKarnataka News: शिवमोग्गा में सावरकर के पोस्टर को लेकर बढ़ा विवाद, धारा 144 लागूसिंगर राहुल जैन पर कॉस्ट्यूम स्टाइलिस्ट के साथ रेप का आरोप, मुंबई पुलिस ने दर्ज की एफआईआरशख्स के मोबाइल पर गर्लफ्रेंड ने भेजा संदिग्ध मैसेज, 6 घंटे लेट हुई इंडिगो की फ्लाइट, जाने क्या है पूरा मामलासिर्फ 'हर घर' ही नहीं, 'स्पेस' में भी लहराया 'तिरंगा', एस्ट्रोनॉट राजा चारी ने अंतरिक्ष स्टेशन पर लहराते झंडे की शेयर की तस्वीरबिहार : नीतीश कुमार का बड़ा ऐलान, 20 लाख युवाओं को देंगे नौकरी और रोजगारIndependence Day 2022 : अगले 25 सालों का क्या है प्लान, पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.