देश की सबसे बड़ी मर्डर मिस्ट्री में आखिर क्यो हाईकोर्ट को देना पड़ा दखल

देश की सबसे बड़ी मर्डर मिस्ट्री में आखिर क्यो हाईकोर्ट को देना पड़ा दखल
Murder

Santosh Kumar Singh | Updated: 06 Oct 2019, 01:35:18 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

country's biggest murder mystery:धनुष तोप बेयरिंग प्रकरण में चल रही थी सीबीआई जांच, जीसीएफ में अधिकारी थे जीएस खटुआ, खुलासे के लिए पत्नी मौसमी ने लगा रखा है हाईकोर्ट में चाचिका, तल्खी के बाद अब भोपाल स्थित मेडिकल लीगल एक्सपर्ट से मांगा अभिमत, घटनास्थल के फोटोग्राफ और पीएम रिपोर्ट के आधार पर क्रिएट करेंगे सीन ऑफ क्राइम

जबलपुर. मप्र हाईकोर्ट (MP High Court) की तल्ख टिप्पणी और चार सप्ताह में जीसीएफ के जूनियर वक्र्स मैनेजर (जेडब्ल्यूएम) एससी खटुआ (SC Khatua) हत्याकांड 9murder) का खुलासा करने की चेतावनी के बाद पुलिस बैकफुट पर है। नौ महीने से उलझी ये मर्डर मिस्ट्री (murder mystery) सुलझाने के हर प्रयास विफल साबित हुए। हत्याकांड से जुड़े संदेहियों के मोबाइल नम्बरों को महीनों अधिकारियों ने सर्विलांस पर रखा, लेकिन कोई क्लू नहीं मिला।
मेडिकल लीगल एक्सपर्ट की मांगी राय
अब पुलिस ने विवेचना के हर पहलू की जांच शुरू कर दी है। मौत की गुत्थी सुलझाने के लिए भोपाल के मेडिकल लीगल एक्सपर्ट की राय मांगी गई है। वे पीएम रिपोर्ट और 250 के लगभग घटनास्थल की विभिन्न तस्वीरों की मदद से ‘सीन ऑफ क्राइम’ क्रिएट कर जानने की कोशिश करेंगे कि हत्या की गई या यह आत्महत्या का प्रकरण है। घमापुर टीआई पीएम रिपोर्ट और फोटोग्राफ के साथ भोपाल पहुंचे हैं।

भविष्य में उसे 400 से अधिक धनुष तोप बनानी हैं।
IMAGE CREDIT: patrika

धनुष तोप बेयरिंग प्रकरण में सीबीआई जांच में घिरे थे खटुआ
धनुष तोप बेयरिंग प्रकरण में सीबीआई जांच में घिरे जीएस खटुआ की 19 दिन लापता होने के बाद पांच फरवरी 2019 को पाटबाबा पहाड़ी के पीछे लाश मिली थी। खटुआ की जहां लाश मिली, उससे कुछ ही दूर उनकी स्कूटी मिली थी। खटुआ की जेब में स्कूटी की चाबी, डिक्की में बंद मोबाइल और पर्स मिला। पर्स में पैसे भी थे। गायब होने वाली सुबह वह घर से कृपाल चौक अधिवक्ता के यहां गए थे। वहां से दिल्ली सीबीआई मुख्यालय को मेल कर जानकारी देने गए थे कि वह 19 जनवरी को नहीं पहुंच पाएगा।
पीएम रिपोर्ट से उलझा मामला
पीएम रिपोर्ट में डॉक्टर ने उसके शरीर पर मिले घाव को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं की है। खटुआ की बॉडी डी-कम्पोज हो चुकी थी। उसके हाथ की नसों के काटे जाने और सिर में चोट पीएम रिपोर्ट में बताई गई, लेकिन यह हत्या के पहले लगा या बाद में यह नहीं स्पष्ट किया गया।
तस्वीरों में ये अहम
-घटनास्थल पर मिला ब्लेड
-शव के पास थोड़ी दूर पर कांच के टुकड़े मिले
-खून के धब्बे
-सिर की चोट
-हाथ की चोट
-शव की हालत
-गड्ढे में बिखरे खून
वर्जन-
खटुआ हत्याकांड में भोपाल के मेडिकल लीगल एक्सपर्ट से अभिमत मांगा गया है। इसके लिए पीएम रिपोर्ट और घटना से जुड़ीं तस्वीरें लेकर घमापुर टीआई को उनके पास भेजा गया है।
अमित सिंह, एसपी

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned