डीजी लॉकर में रखे ड्राइविंग लाइसेंस-रजिस्ट्रेशन चैकिंग में नहीं रोकेगा कोई

डीजी लॉकर में रखे ड्राइविंग लाइसेंस-रजिस्ट्रेशन चैकिंग में नहीं रोकेगा कोई
Digital Locker

Santosh Kumar Singh | Updated: 14 Sep 2019, 12:03:32 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

Digital Locker:जिले में दस लाख से अधिक वाहन पंजीकृत, चालकों को होगा फायदा

जबलपुर . वाहन और चालक से जुड़े दस्तावेज अब मोबाइल में सुरक्षित रहेंगे। वाहन चालक इन्हें ट्रैफिक पुलिस और आरटीओ को दिखा सकेंगे। परिवहन मंत्रालय की ओर से वाहन चालकों के लिए डिजिटल लॉकर जारी कर दिया गया है। इसमें वाहन की आरसी, इंश्योरेंस, प्रदूषण नियंत्रण प्रमाणपत्र, डीएल और अन्य दस्तावेज सुरक्षित रहेंगे। दस्तावेज खोने, फटने, चोरी का डर नहीं रहेगा।
डिजिटल लॉकर को किया गया मान्य
परिवहन मंत्रालय की ओर से पत्र जारी कर डिजिटल लॉकर को मान्य किया गया है। इसमें वाहन सम्बंधित सभी दस्तावेज सुरक्षित रहेंगे। इस फाइल को चालक पासवर्ड के माध्यम से सुरक्षित रखेंगे। इस फाइल में वाहन की आरसी, इंश्योरेंस, प्रदूषण नियंत्रण प्रमाणपत्र और फिटनेस संबंधित दस्तावेज सुरक्षित रहेंगे।
एम-परिवहन एप में रहेंगे दस्तावेज
परिवहन मंत्रालय की ओर से सभी राज्य सरकारों को निर्देश दिए गए हैं कि वे डिजिटल लॉकर या एम परिवहन एप में उपलब्ध दस्तावेजों को ट्रैफिक पुलिस या मोटर वाहन विभाग द्वारा वैध दस्तावेज के रूप में स्वीकार करने सम्बंधी आदेश जारी करें।
फर्जीवाड़े पर रोक लगेगी
डिजिटल लॉकर के शुरू होने पर फर्जीवाड़े पर रोक लगेगी। कुछ लोग फर्जी आरसी और वाहन के दस्तावेज बनाकर वाहनों को बेच देते हैं। यदि आरटीओ अधिकारियों और यातायात पुलिस को चेकिंग के दौरान दस्तावेज में गड़बड़ी मिलेगी तो वे चालक से डिजी लॉकर खुलवाकर दस्तावेजों की जांच कर सकेंगे।आरटीओ अधिकारियों के अनुसार जिले में दस लाख से ज्यादा वाहन पंजीकृत हैं। हर वर्ष 80 से 90 हजार वाहनों का पंजीकरण होता है। वाहन मालिक के दस्तावेज और वाहन संबंधित सभी दस्तावेज फाइल में सुरक्षित रहेंगे।
वर्जन-
डिजी लॉकर को लेकर अभी हमारे पास कोई लिखित आदेश नहीं आया है। हालांकि, इसे लागू करने की कवायद उच्चस्तर पर जारी है। हमारे तरफ से जिले में सभी यातायात निरीक्षक व कर्मियों को निर्देशित किया गया है कि यदि कोई वाहन चैकिंग के दौरान अपने दस्तावेज की मोबाइल में खींची तस्वीर या वॉट्सऐप पर दिखा दे, तो उस पर कार्रवाई नहीं की जाएगी।
अमृत मीणा, एएसपी ट्रैफिक

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned