Diwali 2019 : दिवाली पर इन हैंडमेड चीजों से सजाएं अपना घर-आंगन, अपनाएं ये टिप्स

दिवाली पर इन हैंडमेड चीजों से सजाएं अपना घर-आंगन, अपनाएं ये टिप्स

By: abhishek dixit

Published: 24 Oct 2019, 11:11 AM IST

जबलपुर. हैंडमेड आइटम्स की खरीदारी इस दिवाली में ज्यादा हो रही है। क्योंकि लोग अपने आशियाने को बेहद खूबसूरती से सजाना चाहते हैं। इसके लिए वे हैंडमेड चीजों को अधिक खरीद रहे हैं। लोगों का कहना है कि हैंडमैड चीजों से घर डेकोरेट करना काफी अच्छा लगता है। अब स्वदेशी अपनाने के कॉन्सेप्ट को ध्यान में रखते हुए शहरवासी हैंडमेड चीजों का ही इस्तेमाल कर रहे हैं। इसमें जहां महाराष्ट्र की वारली कला और गुजराती और राजस्थान के मांडना से घर खूबसूरत बनाए जा रहे हैं।

दोबारा दिख रहा ट्रेंड
सालों पहले मांडला और वारली आर्ट की कला घरों की चौखटों पर नजर आती थी। यह नजारा खासतौर पर गांवों और कस्बों में अधिक नजर आता था, लेकिन मॉर्डन और टे्रडिशनल टच के चलते लोग इस तरह की देसी कला को घर में उकेरने का काम कर रहे हैं।

मार्केट मे ढ़ेरों वैरायटीज
शहर के मार्केट में दिवाली के लिए कई तरह की वैरायटीज देखने को मिल रही है। इसमें चाइनीज झालर की बजाय लोग ऊन से बनी हुई झालर और तोरण खरीदना पसंद कर रहे हैं। नीलम अग्रवाल का कहना है कि इस दिवाली डेकोरेशन के लिए पूरी देसी चीजों का चुनाव किया है। पेंटिंग हो या फिर सीनरी। इन्हें प्रोफेशनल पेंटर्स से तैयार करवाया है। इसके साथ ही ऊन से बनकर तैयार हुए तोरण और झालरों में लाइट फिटिंग करके रूम से डिफरेंट लुक दिया जा रहा है।

 

Diwali-1
IMAGE CREDIT: patrika

शहर के बाजारों में सिर्फ जबलपुर और मध्यप्रदेश में नहीं बल्कि देश के विभिन्न राज्यों से सजावटी सामान शहर में आ चुका है। आंधप्रदेश, राजस्थान, गुजरात, हिमाचल, महाराष्ट्र, कोलकाता, असम, मद्रास, दिल्ली, उत्तरप्रदेश आदि जगहों से सजावटी समान आ रहा है। इनकी खासियत यह है कि यह वहां की कला को अपने में समेटे हुए हैं।

ये हैं खास
- कंदिल
- तोरण
- झालर
- द्वार लटकन
- पेंटिंग्स
- स्केच

abhishek dixit
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned