कोरोना काल में किसान पर दोहरी मार, उपज की तुलाई के लिए मांगे पैसे

जबलपुर के सिंगौद गेहूं खरीदी केंद्र का मामला, एसडीएम ने एफआइआर के दिए निर्देश

 

By: shyam bihari

Updated: 10 May 2020, 10:53 PM IST

जबलपुर। कोरोना काल में जबलपुर जिले के तमाम किसानों को दोहरी मार झेलनी पड़ रही है। यहां के पनागर तहसील के सिंगौद खरीदी केंद्र में समिति के पदाधिकारी की ओर से एक किसान से उपज की तुलाई, पल्लेदारी और वेयरहाउस में उपज रखवाने के नाम पर पैसों के लेनदेन का ऑडियो वायरल हो रहा है। भारत कृषक समाज के महाकोशल प्रांत के अध्यक्ष केके अग्रवाल ने कलेक्टर सहित अन्य अधिकारियों को ऑडियो भेजा है। इस पर जबलपुर एसडीएम ने थाना प्रभारी को जांच कर एफआईआर के निर्देश दिए।

ऑडियो में सिंगौद स्थित खरीदी केंद्र में किसान नरेंद्र नाम के व्यक्ति से कह रहा है कि वह उसे पर्ची दिलवा दे। इसके बदले में नरेंद्र ने पैसों की मांग की। किसान ने पूछा कितना समय लगेगा, इस पर व्यक्ति ने कहा, जितना लगता है दे दो। तुलाई के अलावा वेयरहाउस में उपज रखवाने का अलग से पैसा लगेगा। ऑडियो में सौदेबाजी के लिए गिरवर नामक व्यक्ति का जिक्र किया गया है।

एसडीएम ने निर्देश में कहा है कि ऑडियो में किसान खरीदी केंद्र सिंगौद के सोसायटी प्रबंधक से चर्चा कर रहा है। बातचीत में पल्लेदारी और गेहंू वेयरहाउस में रखवाने का पैसा नरेंद्र और गिरवर को देने का जिक्र किया जा रहा है। उन्होंने कहा, प्रथम दृष्टया यही समझ आता है कि कर्तव्य के निर्वहन में भ्रष्टाचार हो रहा है। उन्होंने पनागर थाना प्रभारी को मामले की जांच कर दोषी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए। एसडीएम जबलपुर मणींद्र सिंह ने बताया कि समिति के नरेंद्र नामक व्यक्ति द्वारा किसान से तुलाई, वेयरहाउस में गेहूं रखवाने और पल्लेदारी के लिए पैसे लेने का ऑडियो वायरल हुआ है। इसकी जांच कराई जा रही है। दोषी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराएंगे।

shyam bihari Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned