यहां बारिश नहीं हुई मेहरबान, सूख गई खेतों की धान

यहां बारिश नहीं हुई मेहरबान, सूख गई खेतों की धान
paddy

Jabalpur Online | Publish: Sep, 17 2015 04:24:00 PM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

धान उत्पादक किसानों को मिले मुआवजा, सिहोरा तहसील को सूखा घोषित करने कांग्रेस ने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

जबलपुर। तहसील को सूखाग्रस्त घोषित करने की मांग को लेकर कांग्रेस पार्टी ने एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में पूरे क्षेत्र का सर्वे कराकर प्रभावित धान उत्पादक किसानों को बारिश नहीं होने से बर्बाद फसल का मुआवजा देने की मांग की गई। नगर पालिका अध्यक्ष सुशीला विश्नू चौरसिया, जिला पंचायत सदस्य जमुना मरावी, कांग्रेस जिला महामंत्री अरशद खान, पूर्व ब्लॉक अध्यक्ष प्रवीण पाठक की उपस्थिति में सौंपे गए ज्ञापन के समय सिहोरा, मझगवां और गोसलपुर के किसान बड़ी संख्या में शामिल थे।
बहुत कम बारिश हुई है
किसान सुबोध पांडे ने एसडीएम को बताया कि  इस वर्ष सिहोरा तहसील में बहुत कम बारिश हुई है। धान की फसल को व्यापक नुकसान पहुंचा है।  किसान कांग्रेस के प्रदेश सचिव ने बताया कि गांवों में लगातार बिजली कटौती, नहरों की दुर्दशा के चलते किसानों को पानी नहीं मिल रहा। वैकल्पिक साधनों से सिंचाई नहीं हो पा रही। ज्ञापन में एसडीएम अरविंद सिंह से सिहोरा तहसील के सभी  ग्रामों को शीघ्र सर्वे करवाकर धान की फसलों को हुई क्षति का आंकलन कर तहसील को सूखाग्रस्त घोषित किया जाए।
भारत कृषक समाज के प्रतिनिधिमंडल ने दौरे पर पहुंच प्रभारी कलेक्टर धनराजू एन से भेेंटकर वर्तमान अल्पवर्षा की स्थिति को देखते हुए  मझौली तहसील को सूखाग्रस्त घोषित करने की मांग की। प्रतिनिधिमंडल में भारत कृषक समाज के अध्यक्ष रामगोपाल पटेल, रमेश पटेल, उदय पटेल, सुरेंद्र पटेल, आनंद पटेल के साथ बड़ी संख्या में किसान शामिल थे।
यहां भी किसानों ने की मांग
बरेला. मंडी सदस्य सहदेव सिंह गौर ने शासन से क्षेत्र में दलहन और धान की सूख गई फसल को देखते हुए क्षेत्र को सूखाग्रस्त घोषित करने की मांग की है। भारत कृषक समाज ब्लॉक अध्यक्ष योगेश पटेल ने कहा है कि क्षेत्र के दो दर्जन से अधिक गांवों मेें फसलें पूरी तरह बर्बाद हो चुकी हैं। यदि किसानों को बर्बाद हुई फसल का मुआवजा नहीं दिया तो आंदोलन किया जाएगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned