E-tender scam : हाईकोर्ट पहुंचीं पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा के निजी सचिवों की पत्नियां

E-tender scam : हाईकोर्ट पहुंचीं पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा के निजी सचिवों की पत्नियां
e tender scam,mp online tender scam,Before the work is done in the tender scam,High Court,MP High Court

Abhishek Dixit | Updated: 03 Aug 2019, 01:41:26 AM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

ई-टेंडरिंग घोटाले में पतियों को राजनीतिक द्वेषवश फंसाए जाने का आरोप

जबलपुर. प्रदेश के बहुचर्चित ई-टेंडरिंग घोटाले में गिरफ्तार पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा के दो निजी सचिवों निर्मल अवस्थी व वीरेंद्र पांडे की पत्नियों ने मध्यप्रदेश हाईकोर्ट में याचिका दायर की है। अमिता अवस्थी व अनीता पांडे की ओर से दायर याचिका में आरोप लगाया गया है कि उनके पति को ईओडब्ल्यू ने राजनीतिक द्वेषवश फंसाया है। इस समय ईओडब्ल्यू राज्य शासन के हाथों का बदला लेने का हथियार बन गया है। लिहाजा, निष्पक्ष जांच प्रक्रिया पूरी कराने के लिए मामले की जांच ईओडब्ल्यू के स्थान पर सीबीआई को ट्रांसफर कर दी जानी चाहिए। फिलहाल, सिर्फ याचिका दायर हुई है, सुनवाई की तिथि तय नहीं हुई है।

याचिकाकर्ताओं की ओर से अधिवक्ता आदित्य सिंह यादव पैरवी कर रहे हैं। उन्होंने अवगत कराया कि समूची कार्रवाई राजनीति से प्रेरित है। अवस्थी व पांडेय के खिलाफ ईओडब्ल्यू के पास ऐसे कोई पुख्ता सबूत नहीं हैं, जिनसे प्रथमदृष्टया ई-टेंडरिंग घोटाले में उनकी संलिप्तता साफ हो। इसके बावजूद राज्य शासन के इशारे पर ईओडब्ल्यू ने पॉलिटिकल एजेंडे के तहत कार्रवाई की। दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। याचिका में आरोप लगाया गया है कि राज्य शासन की ओर से हरसम्भव दबाव बनाया जा रहा है। तैयारी यही है कि ईओडब्ल्यू की ओर से ई-टेंडरिंग घोटाले में आरोपी बनाए गए दोनों निजी सचिव पूर्व मंत्री मिश्रा का भी नाम ले लें। ताकि, पूर्व मंत्री का नाम भी इस घोटोल में घसीटा जा सके।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned