अगर 2 दिनों में नहीं किया ई-केवाईसी कंपलीट, तो इन कर्मचारियों को नहीं मिलेगी सैलरी

जिले के प्रमुख अधिकारियों को आगामी 2 दिनों के भीतर ई-केवाईसी कंपलीट करने के आदेश दिये गए हैं।

By: Faiz

Updated: 21 Jun 2020, 04:55 PM IST

जबलपुर/ अब तक शिक्षकों की ई-केवाईसी कंपलीट न होने पर नाराजगी जताईजा रही थी, लेकिन अब शिक्षा विभाग के प्रमुख कार्यालयों में पदस्थ कर्मचारी-अधिकारियों की ई-केवाईसी कंपलीट न होने पर स्कूल शिक्षा विभाग ने जेडीई, डीईओ, बीईओ कार्यालय से लेकर कुछ स्कूलों में कर्मचारियों की ई-केवाईसी पूरी नहीं होने पर वेतन नहीं देने की चेतावनी जारी की है। जिले के प्रमुख अधिकारियों को आगामी 2 दिनों के भीतर ई-केवाईसी कंपलीट करने के आदेश दिये हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- युवती ने कहा- एक्टर सुशांत सिंह की तरह लगा लूंगी फांसी, फिर ठीक उसी तरह दे दी जान



अब तक 700 कर्मचारी-अधिकारियों के कंपलीट नहीं E-KYC

सभी विकासखंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय, डीईओ (जिला शिक्षा अधिकारी), जेडीई (संयुक्त संचालक लोकशिक्षण) कार्यालय समेत अन्य दफ्तरों में कुल 7 हजार 809 कर्मचारी-अधिकारी पदस्थ हैं। इनमें से करीब 700 अधिकारी-कर्मचारियों के ई-केवाईसी कंपलीट नहीं है। अब तक 7 हजार 120 स अधिक अधिकारी-कर्मचारियों ने ई-केवाईसी सत्यापित कर लिये हैं, जबकि 9 कर्मचारी होल्ड पर हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- UNLOCK 1 : इन शर्तों के साथ इंदौर में गूंजेजी शहनाई की आवाज़, मिली परमिशन


ई-केवाईसी की क्यों पड़ी जरूरत

स्कूल शिक्षा विभाग सभी काम की तरह कर्मचारी-अधिकारियों के वेतन आहरण में एकरूपता लाना और सभी की जानकारी एक ही जगह पर होने के लिए ई- केवाईसी भरवाई जा रही है। इसी के तहत सभी स्कूल स्टाफ और कार्यालयों के कर्मचारी-अधिकारियों के आधार कार्ड, ई-मेल आईडी, फोन नंबर ऑनलाइन फीड किए जाते हैं। बता दे कि, विभाग का कहना है कि, ई-केवाईसी जिन कर्मचारी-अधिकारियों की कंपलीट नहीं है उनका कहीं आधार कार्ड में फोन नंबर बदला हुआ है तो कहीं ई-मेल आईडी सही नहीं है, तो किसी का फोन नंबर बदल चुका है। लोक शिक्षण के संयुक्त संचालक राजेश तिवारी के मुताबिक, यही कारण है कि, कर्मचारी-अधिकारियों की ई-केवाईसी भरवाई जा रही है, ताकि विभाग के पास सभी की स्पष्ट जानकारी हो।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned