हार्दिक पटेल के काफिले पर पथराव, फेंके अंडे, मची भगदड़- देखें वीडियो

पाटीदार नेता हार्दिक को अधारताल व पनागर में दिखाए काले झंडे

 

By: Lalit kostha

Published: 07 Jun 2018, 04:26 PM IST

जबलपुर। अधारताल में गुरुवार को उस समय अफरा-तफरी का माहौल बन गया जब कुछ उपद्रवियों ने पाटीदार नेता हार्दिक पटेल के काफिले पर पथराव शुरू कर दिया। उपद्रवियों ने पाटीदार की कार पर अंडे भी फेंके। इसके बाद पनागर सभा स्थल के समीप हार्दिक पटेल को काले झंडे भी दिखाए गए। इस दौरान उपद्रवियों और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई। पुलिस ने स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए लाठी जार्च कर दिया, जिसमें कांग्रेस नेता संजय यादव और दुर्गेश पटेल को भी चोटें आने की खबर है। सभा के पहले विवाद की स्थिति बनाने वाले उपद्रवी तत्वों में से दो को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। शेष की तलाश जारी है।

कांग्रेस समर्थित किसान आंदोलन की पनागर विधानसभा में आयोजित सभा को संबोधित करने पहुंचे किसान नेता व पाटीदार नेता हार्दिक पटेल पर कुछ लोगों ने अंडे व टमाटर फेंककर अपना आक्रोश व्यक्त किया। विरोधियों को कहना था कि हार्दिक ओबीसी और किसानों के नाम पर लोगों को गुमराह कर रहे हैं। पनागर में भी वे यही करने आए थे। वहीं हार्दिक पटेल पर हुए अचानक हमले से पुलिस भी सकते में आ गई। लोगों को तितर बितर करने उसे बल का प्रयोग भी करना पड़ा। पूरे रास्ते हार्दिक पटेल को काले झंडे भी दिखाए गए।

 

मिली है सशर्त अनुमति
इसके पहले किसान आंदोलन को लेकर हार्दिक पटेल को सभा करने की अनुमति नहीं दी गई थी। वहीं आयोजकों के आवेदन भी खारिज कर दिए गए थे। लेकिन बुधवार शाम को आयोजक द्वारा स्वयं पूरी व्यवस्थाएं जुटाने की शर्त में प्रशासन द्वारा सभा की अनुमति दी गई है। हालांकि एहतियात के तौर पर पुलिस बल मौके पर लगाया गया था।

कुछ लोग हुए गिरफ्तार
हार्दिक पटेल पर अंडे फेंकने और काले झंडे दिखाने वाले कुछ प्रदर्शनकारियों को अधारताल पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया है। पुलिस के अनुसार वे किसी पार्टी से हैं या अन्य कोई संगठन से जुड़े कार्यकर्ता हैं। इसकी जानकारी नहीं लग सकी है। पूछताछ के बाद ही स्पष्ट हो सकेगा। उल्लेखनीय है कि हार्दिक पटेल की सभा को लेकर पनागर में कुछ ओबीसी व किसान संगठनों द्वारा सोशल मीडिया पर विरोध जताया जा रहा था। उनका कहना था कि हार्दिक की सभा पनागर में नहीं होने देंगे। ऐसे में आज हुई इस घटना को उसी से जोड़कर देखा जा रहा है।

Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned