बड़ी खबर: बहन को बचाने भाई ने लगा दी जान की बाजी, नर्मदा में कूदा मौके पर मौत

बड़ी खबर: बहन को बचाने भाई ने लगा दी जान की बाजी, नर्मदा में कूदा मौके पर मौत

By: Lalit kostha

Published: 25 Apr 2018, 02:50 PM IST

जबलपुर। शहर के एक महाराष्ट्रीयन परिवार में शादी विवाह की मंगल शहनाइयां गूंज रहीं थीं। दूर दराज से आए नाते रिश्तेदार एक दूसरे मिलकर खुश थे। शादी के साथ लोगों ने जबलपुर दर्शन का प्लान बनाया। ऐतिहासिक धरोहरों के साथ मां नर्मदा के दर्शन व सौंदर्य को लेकर भी सभी उत्साहित थे। घर से निकले तो सभी ने जबलपुर में आने की अपनी यादों को संजोने का प्लान बनाया था। जहां गए वहां की सेल्फी ली और दूर दराज बैठे दोस्तों व परिजनों को बताया कि जबलपुर कितना सुंदर है। इसके बाद सभी विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल भेड़ाघाट पहुंचे और संगमरमरी वादियों को देखकर सब मोहित हो गए। किंतु न जाने किसकी नजर लग गई और खुशियां मातम में तब्दील हो गईं। अचानक बहन डूबने लगी तो उसके भाई ने जान की बाजी लगा दी, बहन तो बच गई, लेकिन भाई नर्मदा की तेज धार में कहीं खो गया। गोताखोर उसकी तलाश में लगे हुए हैं।

भेड़ाघाट थाना प्रभारी एमडी नगोतिया ने बताया नागपुर निवासी रेवती, उनकी बेटी शाइली व अन्य परिजन जबलपुर अपने एक रिश्तेदार के यहां शादी समारोह में शामिल होने आए थे। शादी के साथ उन्होंने बुधवार को घूमने का प्लान बनाया और सुबह करीब १० बजे भेड़ाघाट पहुंच गए। सभी रोपवे से न्यू भेड़ाघाट की ओर गए। जहां नर्मदा को करीब से देखने के लिए सभी खड़े हो गए। इसी बीच शाइली को चक्कर आ गया और वह नर्मदा में गिरने लगी, तभी मां रेवती उसे बचाने के लिए दौड़ पड़ीं। लेकिन उनका भी बैलेंस गड़बड़ा गया और बेटी के साथ वे भी गिरने लगी।


इस दौरान शाइली का चचेरा भाई रोहन तामने दोनों को बचाने के लिए दौड़ पड़ा। उसने जैसे तैसे मां बेटी को तो बचा लिया, लेकिन खुद का संतुलन खो दिया। जिससे वह नर्मदा की तेज धार में गिर गया। वह संभल पाता इससे पहले वह नर्मदा की गहराई में समा गया। साथ गए रिश्तेदारों में चीख पुकार मच गई। तत्काल पुलिस को सूचना दी गई। वहीं स्थानीय गोताखोर भी कूद पड़े, लेकिन रोहन का कुछ पता नहीं चल सका है। पुलिस ने लाश की तलाश शुरू कर दी है।

Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned