लापरवाही की हद, भेड़ाघाट में एक साल बाद भी शुरू नहीं हो सका लेजर शो

संचालन की व्यवस्था नहीं कर सका जिला प्रशासन

By: sudarshan ahirwa

Updated: 26 May 2019, 01:41 AM IST

जबलपुर. पर्यटन सीजन बीतने को है, लेकिन लेजर शो को लेकर पर्यटकों का इंतजार अब भी जारी है। पंचवटी में पर्यटकों के मनोरंजन के लिए तैयार किए गए लेजर शो का पर्दा पिछले एक साल में नहीं उठ सका है। मार्च 2018 में स्कूलों की परीक्षाओं के मद्देनजर पर्यटकों की कम संख्या को ध्यान में रखते हुए शो का संचालन बंद कर दिया गया था, जिसके बाद से आज तक शो शुरू नहीं हो सका। जिम्मेदारों का कहना है कि शो के संचालन के लिए टेंडर जारी किया जाना है। यह प्रक्रिया पूरी न हो पाने के पीछे पहले विधानसभा चुनाव की आचार संहिता का हवाला दिया गया। पिछले तीन महीने से लोकसभा चुनाव की आचार संहिता लागू होने को कारण बताया गया। अब टेंडर जारी भी किया जाता है तो 15 जून से मानसून सीजन शुरू होने के साथ भेड़ाघाट में पर्यटकों का आवाजाही थम जाएगी। यानी लेजर शो को लेकर पर्यटकों का इंतजार विंटर सीजन तक के लिए जारी रहेगा।

इंफ्रास्ट्रक्चर पर खर्च राशि
-25 लाख वॉटर टैंक व कं ट्रोल रूम निर्माण
-55 लाख एमफीथियेटर निर्माण
-125 लाख उपकरणों पर खर्च
-30 लाख पब्लिक एमिनिटी विकास
-10 लाख का टिकटिंग प्लाजा
-15 लाख पार्किंग पर खर्च
-2 लाख के डस्टबिन
-5 लाख रैलिंग पर खर्च
-10 लाख का सोविनियर शॉप
-3 करोड़ 7 लाख रुपए प्रोजेक्ट पर कुल खर्च

संभागीय कमिश्नर ने मांगा जवाब
लेजर शो लम्ंबे समय से बंद होने के मामले में संभागायुक्त राजेश बहुगुणा ने जिला प्रशासन से जवाब मांगा है। संभागायुक्त कार्यालय से पत्र जारी कर जबलपुर टूरिज्म प्रमोशन काउंसिल से जानकारी मांगी गई है कि आखिर क्यों इतने लम्बे समय से शो का संचालन बंद है, जिसके बाद जेटीपीसी की टीम जवाब तैयार करने में जुटी है।

लेजर शो के संचालन के लिए नए सिरे से टेंडर जारी किया जाना है। चुनाव आचार संहिता लगी होने के कारण अब तक इस दिशा में पहल नहीं हो सकी थी। शो के संचालन को लेकर संभागायुक्त कार्यालय से जानकारी मांगी है, जिससे की पर्यटकों के लिए इसे फिर से शुरू किया जा सके।
हेमंत सिंह, सीइओ, जेटीपीसी

 

sudarshan ahirwa
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned