Exam diet : तेज दिमाग के लिए अपनी डाइट में शामिल करें प्रोटीन और फाइबर, एग्जाम में दें बेस्ट

Exam diet : तेज दिमाग के लिए अपनी डाइट में शामिल करें प्रोटीन और फाइबर, एग्जाम में दें बेस्ट

By: abhishek dixit

Published: 01 Mar 2020, 11:11 AM IST

जबलपुर. एग्जाम का वक्त जैसे-जैसे नजदीक आता जा रहा है। स्टूडेंट्स और पैरेंट्स के लिए टेंशन का दौर उतना ही बढ़ता जा रहा है। एग्जाम से जुड़ी हर छोटी प्रॉब्लम स्टूडेंट्स को परेशान कर रही है। ऐसे में उनके लिए जरूरी है कि वे किस तरह से खुद को बैलेंस रखते हुए एग्जाम परफॉर्मेंस पर ध्यान दे सकते हैं। कुछ ऐसा ही स्टूडेंट्स के साथ डाइट से जुड़ा हुआ है। क्योंकि फूड डिपेंड ऑन मूड के कॉन्सेप्ट पर फोकस करते हुए आप एग्जाम में बेस्ट रिजल्ट पा सकते हैं।

हैवी डाइट को कहें ना
एग्जाम के दिनों में स्टूडेंट्स को हैवी डाइट को पूरी तरह से इंकार करना चाहिए। इसका बड़ा कारण है कि जब स्टूडेंट्स स्टडी के दौरान हैवी डाइट लेते हैं तो उनकी फिजिकल एक्टिविटी पूरी तरह से बंद रहती है। ऐसे में एसिडिटी की प्रॉब्लम सबसे ज्यादा होती है। हैवी डाइट के बजाय बच्चों को रुक-रुक कर खाना खाना चाहिए, ताकि उन्हें स्टडी के दौरान नींद और आलस नहीं आए।

प्रोटीन और फाइबर फूड
बॉडी में एनर्जी और माइंड सेटअप के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है कि बच्चों को प्रोटीन और फाइबर युक्त खाना दिया जाए। ऐसे में बच्चों के लिए पैरेंट्स बादाम और काजू जैसे नट्स दे सकते हैं, ताकि बच्चे दिनभर रुक-रुक कर खाते रहें। इसके साथ ही अगर लेट नाइट स्टडी करनी है तो ग्रीन टी ले सकते हैं जिसमें कैफीन तो होता है, लेकिन ग्रीन टी बॉडी पर बुरा असर नहीं डालती बस स्टडी के लिए जगा रह सकती है।

पैरेंट्स को बनाना होगा शेड्यूल
काउंसर नीलिमा नील ने बताया कि एग्जाम के टाइम पैरेंट्स को स्टूडेंट्स के लिए एक शेड्यूल बनाना होगा, जिसमें उन्हें यह निर्धारित करना होगा कि बच्चों को खाने में क्या देना चाहिए और क्या नहीं। इसमें सबसे ज्यादा फ्रूट्स एंड नट्स की मात्रा बच्चों के लिए बढ़ानी चाहिए, जिससे उनमें एनर्जी बढ़ेगी।

Show More
abhishek dixit
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned