फेसबुक लाइव से करके खोली पुलिस की पोल, चैकिंग के दौरान दस हजार रुपए मांगने का आरोप

फेसबुक लाइव से करके खोली पुलिस की पोल, चैकिंग के दौरान दस हजार रुपए मांगने का आरोप

 

By: Lalit kostha

Published: 22 Apr 2021, 03:51 PM IST

जबलपुर। कोरोना कफ्र्यू के चलते बुधवार रात को केंट पुलिस द्वारा भैंसासुर तिराहे पर चैकिंग लगाई गई थी। इस दौरान पुलिस ने एक कार को रोका। कार सवार ने पहले तो मंदिर और फिर अस्पताल जाने की बात कही। पुलिस अधिकारियों ने उनके खिलाफ चालानी कार्रवाई की बात कही, तो वे फेसबुक लाइव कर पुलिस पर दस हजार रुपए मांगने और अभद्रता का आरोप लगाने लगे। जिसके बाद आला अधिकारी मौके पर पहुुंचे और उन्हें थाने ले जाया गया। पुलिस ने मामले को जांच में ले लिया है।

भैंसासुर तिराहे पर वाहन लॉक डाउन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ चैक प्वाइंट लगाकर कार्रवाई की जा रही थी। इस दौरान वहां से कार सवार हाथीताल निवासी गुलाब बजाज पत्नी के साथ निकले। पुलिस ने उन्हें रोका। बाहर घूमने का कारण पूछा, तो उन्होंने पहले मंदिर जाने की बात कही। चैक प्वाइंट पर मौजूद एसआई कन्हैया चतुर्वेदी ने इस पर आपत्ति कर चालानी कार्रवाई की बात कही, तो बजाज ने अस्पताल जाने की बात कह डाली। पुलिस ने अस्पताल में भर्ती मरीज के दस्तावेज पूछे, तो वे भडक़ गए और मोबाइल के जरिए फेसबुक लाइव करने लगे।

आधे घंटे तक किया लाइव
बजाज ने पुलिस पर अभद्रता का आरोप लगाया। वहां मौजूद महिला पुलिस जवान ने भी बजाज का वीडियो बनाना शुरू कर दिया। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि वहां से कई और गााडिय़ां निकल रहीं थीं, लेकिन पुलिस ने उन्हें नहीं रोका। फेसबुक लाइव में नजर आ रहा है, एसआई चतुर्वेदी ने डायल 100 को मौके पर बुलाया। जिसके बाद वायरलेस सेट पर थाना प्रभारी व अन्य अधिकारियों को कॉल किया, लेकिन जब कोई रिस्पांस नहीं आया, तो बजाज को थाने चलने की बात कही।

फेसबुक लाइव के अनुसार बजाज थाने पहुंचे। जहां थाना प्रभारी विजय तिवारी और उनके बीच बहस हो गई। जिसके बाद टीआई ने गाड़ी जब्ती बनाने के लिए स्टाफ को कहा। वे बार-बार बोल रहे थे कि वे अपनी रिपोर्ट लेने जा रहे थे। टीआई ने फिर से पर्ची मांगी, तो बजाज गाड़ी में पर्ची देखने लगे। इस दौरान बजाज ने जेल भेजने और मारपीट की बात कही। टीआई ने कहा कि आपने मंदिर जाने की बात कही है, तब बजाज ने कहा कि वे उन्होंने मंदिर जाने की बात नहीं की है। टीआई ने गाड़ी के कागजात मांगे, तो बजाज ने तत्काल में कागजात न होने की बात कही। वहीं तीन पत्ती में भी बाइक सवार तीन युवकों को पुलिस ने रोका, तो उनकी भी पुलिस से बहस हो गई। हालांकि बाद में चालानी कार्रवाई कर उन्हें जाने दिया गया।

चैकिंग के दौरान गुलाब बजाज को रोका गया था। वे कार से थे। पहले उन्होंने मंदिर और फिर अस्पताल जाने की बात कही। एसआई ने चालानी कार्रवाई की बात कही, तो वे फेसबुक लाइव करने लगे। मामले को जांच में लिया गया है।
- विजय तिवारी, थाना प्रभारी केंट

Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned