देखते रह गए किसान, 91 एकड़ में लगी गेहूं की फसल जलकर खाक

पाटन ब्लॉक के चार और बरेला में हादसा : गर्मी शुरू होते ही गेहूं की फसलों में आग लगने की घटनाएं बढ़ गई हैं। पाटन ब्लॉक के चार और बरेला की ग्राम पंचायत डूंडी में मंगलवार दोपहर आग से 91 एकड़ में लगी गेहूं की फसल जलकर खाक हो गई।

By: praveen chaturvedi

Published: 10 Apr 2019, 08:30 AM IST

जबलपुर। गर्मी शुरू होते ही गेहूं की फसलों में आग लगने की घटनाएं बढ़ गई हैं। पाटन ब्लॉक के चार और बरेला की ग्राम पंचायत डूंडी में मंगलवार दोपहर अचानक गेहूं की फसल में आग भडक़ गई। हवा के साथ आग तेजी से फैल रही थी। आग की लपटें काफी दूर से दिखाई पड़ रही थी। बेबस किसान और उनके परिवार आग बुझाने का हरसम्भव प्रयास कर रहे थे। आग पर काबू होता नहीं देख तत्काल दमकल अमले को सूचना दी गई। नगर निगम जबलपुर से दमकल वाहन मौके पर पहुंचे। घंटों की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका।

आग लगने की सूचना पर राजस्व अमला पाटन पहुंचा। अधिकारियों ने क्षेत्र के गांवों के प्रभावित किसानों के साथ आग से फसल को हुए नुकसान का जायजा लिया। निरीक्षण के बाद अधिकारियों ने बताया, आग से २७ लाख रुपए से ज्यादा के नुकसान का अनुमान है।

जानकारी के अनुसार, पाटन के नुनसर में 6 हेक्टेयर, सहसन में 11 किसानों की 17.5 हेक्टेयर, पड़रिया में तीन किसानों की 1.2 हेक्टेयर और बोरिया में एक किसान की 0.4 हेक्टेयर में लगी गेहूं की फसल जल गई। पाटन में कुल 18 किसानों की 25 हेक्टेयर (61.77) एकड़ में लगी फसल जल गई।

बरेला में शॉर्ट सर्किट से हादसा
बरेला के ग्राम पंचायत डूंडी में दोपहर 2 बजे के लगभग आग लगने से 30 एकड़ में लगी गेहूं की फसल खाक हो गई। खेत से धुआं उठता देख ग्रामीणों ने दमकल अमले को सूचना दी। दमकल कर्मियों ने आग पर काबू पाया। आग लगने का कारण शॉर्ट सर्किट को बताया जा रहा है। आग से 10 किसानों खेमकरन पटेल, रामप्रकाश विश्वकर्मा,सुनील बर्मन, संजीव बर्मन, रामप्रसाद पटेल, मूलचंद पटेल, लक्ष्मण, राकेश, दिनेश, प्रमोद पटेल, राजू रजक के खेतों में लगी गेहूं की फसल जल गई।

यह है स्थिति
- 15 क्विंटल प्रति एकड़ होता है औसत उत्पादन
- 1365 क्विंटल से ज्यादा गेहूं जलने का अनुमान
- 27 लाख 30 हजार रुपए से ज्यादा के नुकसान का है अनुमान

praveen chaturvedi Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned