किसानों को कृषि व्यवसाय से जोडऩा जरुरी

किसानों को कृषि व्यवसाय से जोडऩा जरुरी
farmer must join the agriculture business

Gyani Prasad | Publish: Mar, 05 2019 10:42:11 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

संभागायुक्त राजेश बहुगुणा ने अधिकारियों से कहा

 

जबलपुर. वन, उद्यानिकी, मछलीपालन, रेशम, कृषि, पशुपालन के क्षेत्रों की समन्वित योजना तैयार कर किसान को कृषि तथा उससे जुड़े सहायक व्यवसायों से जोड़ा जाए ताकि किसान वैज्ञानिक तरीके की कृषि को अपना कर आर्थिक उन्नति करें। यह निर्देश संभागायुक्त राजेश बहुगुणा ने कृषि एवं कृषक के समग्र विकास की कार्ययोजना की समीक्षा के दौरान दिए।

संभागायुक्त ने कहा कि संभाग के 64 विकासखंडों को इकाई बनाया जाए। संबंधित विभागों के मैदानी अधिकारी सडक़, मिट्टी, पानी, योग्यता, बाजार की संभावना, खपत को ध्यान में रखते हुए हर दो-तीन ग्रामों के मध्य 10 एकड़ से कम भूमि वाले पांच छोटे किसानों का चयन कर प्रत्येक किसान के लिए कृषि, पशुपालन, एग्रोफ ारेस्ट्री आदि पर आधारित कार्ययोजना बनाएं और अमल में लाएं। 10 एकड़ और अधिक बड़े किसानों के लिए यह कार्य द्वितीय एवं प्रथम श्रेणी अधिकारी करें।

राशन की दुकानों का करें निरीक्षण
उन्होंने संभागीय अधिकारियों की बैठक में उचित मूल्य की दुकानों से राशन सामग्री वितरण में लोगों को हो रही परेशानियों की समीक्षा की। बताया गया कि हर माह की एक से 15 तारीख तक मशीन द्वारा ऑनलाइन वेरीफि केशन के आधार पर उसके बाद 16 से 21 तारीख तक समग्र आईडी के आधार पर राशन सामग्रियों का उचित मूल्य दुकानों से वितरण हो रहा है। संभागायुक्त ने सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत सुदूर गांवों तक सुगम आपूर्ति को सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned