scriptFather raped with 17 year old daughter | 17 साल की बेटी से पिता ने किया दुराचार, जीवन की आखिरी सांस तक जेल | Patrika News

17 साल की बेटी से पिता ने किया दुराचार, जीवन की आखिरी सांस तक जेल

17 साल की बेटी से पिता ने किया दुराचार, जीवन की आखिरी सांस तक जेल

 

जबलपुर

Published: April 01, 2022 09:56:37 am

जबलपुर। घर की चारदीवारी में अपनी 17 साल की बेटी को हवस का शिकार बनाने वाले बलात्कारी पिता को अदालत ने जीवन की आखिरी सांस तक सश्रम कारावास की सजा सुनाई। अपर सत्र न्यायाधीश पाटन जिला जबलपुर, विवेक कुमार की कोर्ट ने कहा कि घटना डरावने स्वप्न जैसी है, जिसकी कल्पना से ही व्यक्ति सिहर जाए। समाज के लिए यह चौंकाने वाला क्रूर सत्य है कि बिना मां की बच्ची अपने भी घर में सुरक्षित नहीं है।

Father raped
Father raped

क्रूरतम और नंगा सत्य
कोर्ट ने कहा कि बच्ची के लिए यह उसकी वास्तवविक जिंदगी का घिनौना सच है। उसके पिता ने उसकी रक्षा करने के बजाय वर्षों तक उसके कोमल बचपन को लूटकर, उसके बचपन की स्मृतियों एवं अंतरमन में जीवन की कडवाहट व यातनापूर्ण यादें प्रतिस्थापित कर दी। पिता पुत्री का कन्यादान करता है व उसका रक्षक कहलाता है। इस पिता ने इस धारणा को तोड़ दिया है कि पिता रक्षक है। अपितु वह तो घर की सुरक्षित चारदीवारी के अंदर उसका भक्षक बन गया। यह निकृष्टतम नैतिक अपराध ही नहीं, मानवता के प्रति क्रूरतम अपराधों का सरताज है। इसमें विश्वास, रक्षा, सम्मान इत्यादि मूल्य वेदी पर चढ गए। यह सुस्थापित मूल्य की ‘नारी तुम केवल श्रद्धा हो’ के घोर विरोधाभास में क्रूरतम और नंगा सत्य है।

इसने बेटी के साथ दुराचार किया है... यह मानवता के प्रति क्रूरतम अपराधी है
पाटन सत्र न्यायाधीश ने कहा, अपनी पुत्री से दुराचार करने वाले पिता को जीवन की आखिरी सांस तक सश्रम कारावास

teenager-raped-on-the-pretext-of-helping-her-during-road-accident.jpg

यह है मामला-
अभियोजन की ओर से विशेष लोक अभियोजक संदीप जैन ने कोर्ट को बताया कि 30 सितंबर 2020 को पीड़ित ने पाटन थाने में लिखित आवेदन प्रस्तुत कर बताया कि उसकी मां का 15 साल पहले देहांत हो गया। उसका पिता एक साल से उसके साथ बलात्कार करता है। कहता है कि किसी को बताया तो जान से मार देगा और काट के फेंक देगा। उसने परिवार को बताया, लेकिन किसी ने सहयोग नहीं किया। तब वह परेशान होकर अपने भाई के साथ थाने में रिपोर्ट करने आई। उक्त शिकायत पर पाटन थाने में आरोपी पिता के खिलाफ धारा 376, 376(2)एन, 452, 506 भादवि एवं 3, 4, 5, 7, 8 पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया। विवेचना के बाद अभियोग पत्र न्यायालय में प्रस्तुत किया गया। सुनवाई के बाद कोर्ट ने आरोपी को दोषसिद्ध करार देते हुए उसके शेष जीवनकाल के लिए सश्रम कारावास की सजा व 11 हजार रुपए जुर्माने से दंडित किया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

पुजारा और कार्तिक की टीम में वापसी, उमरान मालिक को भी मिला मौका, देखें दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड दौरे का पूरा स्क्वाडपश्चिम बंगाल का पूर्व मेदिनीपुर जिला बम धमाकों से दहला, तलाशी के दौरान बरामद हुए 1000 से अधिक बमक़ुतुब मीनार परिसर में होगी खुदाई? केंद्रीय मंत्री संस्कृति मंत्री जीके रेड्डी ने किया इनकारआम आदमी पार्टी में शामिल होंगे कपिल देव! हरियाणा चुनाव से पहले AAP का बड़ा दांव, केजरीवाल संग फोटो वायरलपश्चिम बंगाल में BJP को बड़ा झटका, बैरकपुर के भाजपा सांसद अर्जुन सिंह TMC में हुए शामिलएशिया कप हॉकी: पहले ही मैच में भिड़ेंगे भारत और पाकिस्तान, ऐसा है दोनों टीमों का रिकॉर्डचार धाम यात्रा: केदारनाथ में श्रद्धालुओं ने फैलाया कचरा, वैज्ञानिक बोले - यही बनता है तबाही का कारणअब असम में भी चला बुलडोजर, थाना फूंकने वाले पांच परिवारों के घर गिराए, 20 आरोपी हिरासत में
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.