ठाकुरताल में ट्रैप कैमरे में दिखी मादा तेंदुआ, अब शावकों की तलाश होगी

ठाकुरताल में ट्रैप कैमरे में दिखी मादा तेंदुआ, अब शावकों की तलाश होगी

By: abhishek dixit

Published: 06 Jan 2020, 05:42 PM IST

जबलपुर. रामपुर नयागांव कॉलोनी में ठाकुरताल वन चौकी के समीप टै्रप कैमरे में माता तेंदुआ की तस्वीर नजर आई। ट्रैप कैमरे की चिप की जांच के बाद विशेषज्ञों और वन अधिकारियों ने मंथन किया। उनका मानना है कि कैमरे में ट्रैप हुई फोटो मादा तेंदुआ की है। अब शावकों की उम्र और संख्या का पता लगाने के लिए ट्रैप कैमरों की संख्या बढ़ाई जाएगी।

नयागांव रामपुर कॉलोनी एवं आसपास के क्षेत्रों में एक माह से तेंदुए की हलचल है। करीब 15 दिन पहले कॉलोनी के लोगों ने टेलीस्कोप के माध्यम से पहाडिय़ों में ज्यादा दूरी पर बैठे तेंदुए की तस्वीर ली थी। पहली बार वन विभाग के ट्रैप कैमरे में तेंदुआ की तस्वीर आई है। कॉलोनी के अध्यक्ष रजत भार्गव ने ट्रैप कैमरों की संख्या बढ़ाकर तेंदुए के कुनबा की सही जानकारी जुटाने की मांग की है।

वन्य प्राणी विशेषज्ञ मनीष कुलश्रेष्ठ के अनुसार कद काठी के अनुसार ट्रैप कैमरे आई तस्वीर मादा तेंदुए की तरह है। उसके पिछले हिस्से की मांसपेशी लचीली प्रतीत हो रही है। अनुमान है कि मादा तेंदुए के साथ एक या दो माह के शावक होंगे। रात में शावकों को सुरक्षित छोड़कर वह शिकार करने निकली होगी।

ठाकुरताल में पाटबाबा की पहाडिय़ों पर लगाए गए ट्रैप कैमरे में तेंदुए की तस्वीर आई है। क्षेत्र में तेंदुओं की संख्या का पता लगाया जा रहा है। यदि शावक होंगे तो पिंजरा हटाकर वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन के अनुसार कार्य किया जाएगा। अगर मादा तेंदुआ पकड़ी जाएगी तो शावक मर जाएंगे, शावक पिंजरे में फंस गए तो मादा तेंदुए का स्वभाव बदल सकता है।
रवींद्र मणि त्रिपाठी, डीएफओ

Show More
abhishek dixit
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned