रेत के अवैध उत्खनन में लगी पांच नाव और एक हाइवा जब्त

राजस्व और पुलिस की हिरन नदी के मोहतरा घाट पर दबिश

By: sudarshan ahirwa

Published: 01 Mar 2020, 07:15 PM IST

जबलपुर. राजस्व विभाग और पुलिस प्रशासन ने रेत माफिया पर नकेल कसने के लिए कार्रवाई प्रारंभ कर दी है। जिससे रेत माफिया में हडक़म्प की स्थिति है। शनिवार को हिरन नदी के मोहतरा घाट, गोसलपुर में राजस्व और गोसलपुर पुलिस ने अवैध रेत खनन करने वालों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की गई।

नायब तहसीलदार राहुल मेश्राम, पुलिस अधीक्षक के निर्देशानुसार प्रशिक्षु डीएसपी पूजा पटेल थाना प्रभारी गोसलपुर ने गोसलपुर के मोहतरा घाट में अमले के साथ दबिश दी। अमले को देखते ही रेत माफिया में हडक़म्प मच गया। घाट से अमले ने रेत से भरा हाइवा एमपी 20 एचबी 1957, रेत निकासी में लगी पांच किश्ती, 16 तगाड़ी, 16 बाल्टी, दो फावड़ा और दो सीढ़ी जब्त कीं। छोटी जेसीबी मशीन गेहूं के खेत से लेकर भागने में रेत माफिया के गुर्गे कामयाब हो गए। पुलिस ने रेत माफिया राजेंद्र पटेल व अन्य के विरुद्ध कार्रवाई अवैध उत्खनन करने एवं परिवहन करने की विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया है।

हिरन के अस्तित्व को मिटाने पर आमादा
हिरन नदी के अस्तित्व को मिटाने पर रेत माफिया कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रहे हैं। वर्तमान में हिरन नदी के कूड़ा, घोराकोनी, देवरी कूकरई, चन्नोटा, खिन्नी आदि घाटों पर रेत का अवैध उत्खनन हो रहा है। रेत माफिया रात के अंधेरे में नदी से रेत का अवैध उत्खनन कर रहे हैं। सूत्रों की मानें तो रात 12 बजे से लेेकर सुबह तडक़े चार बजे तक रेत माफिया नदी में सक्रिय रहते हैं। इसके बाद दिन निकलते ही नदी छोड़ देते हैं।

sudarshan ahirwa
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned