जालसाज ने इंजीनियर के नाम का जारी कराया क्रेडिट कार्ड, चार लाख खरीदी की

-पावर प्लांट में इंजीनियर के साथ हुई चार लाख की ठगी, स्टेट सायबर सेल कर रही मामले की जांच, बैंक कर्मियों की भूमिका भी संदिग्ध

By: santosh singh

Published: 16 Oct 2020, 02:29 PM IST

जबलपुर। पावर प्लांट में इंजीनियर को जालसाजों ने फर्जी तरीके से क्रेडिट कार्ड जारी कराकर चार लाख रुपए की चपत लगाई। इंजीनियर को इसकी भनक तब लगी, जब वे ऑनलाइन खाते का ब्यौरा देख रहे थे। हैरानी इस बात की है कि इंजीनियर ने क्रेडिट कार्ड जारी होने के लिए न तो बैंक में आवेदन दिया और न ही ऑनलाइन प्रक्रिया ही की थी। इंजीनियर ने ई-मेल के जरिए स्टेट साइबर सेल में मामले की शिकायत दर्ज कराई।
सुपर थर्मल पावर प्लांट में है इंजीनियर-
जानकारी के अनुसार जेपी बीना निगरी सुपर थर्मल पावर प्लॉट में इंजीनियर संजय कुमार साह का एक्सिस बैंक में सैलरी अकाउंट है। संजय के मुताबिक किसी जालसाज ने फर्जी ई-मेल और मोबाइल नम्बर के आधार पर क्रेडिट कार्ड जारी कराया। जालसाज ने फर्जी एड्रस मझौली मिनरल्स ईस्ट सिंगरौली के नाम पर क्रेडिट कार्ड प्राप्त कर लिया और फिर इसकी मदद से पांच सितम्बर से सात सितम्बर के बीच में चार लाख एक हजार रुपए की खरीदी कर डाली।
एक महीने बाद लगी जानकारी-
इसकी जानकारी उसे एक महीने बाद 12 अक्टूबर को लगी। वह ऑनलाइन बैंक खाता का डिटेल्स चेक कर रहा था। उसका खाता माइनस में दिखा रहा था। चेक किया तो पता चला कि उसके नाम पर क्रेडिट कार्ड जारी हुआ है। बैंक में पता किया तो वहां से भी गोल-मोल जवाब दिया गया। निरीक्षक हरिओम दीक्षित ने बताया कि ई-मेल से प्राप्त इस शिकायत को जांच में लिया गया है। बैंक कर्मियों को भी तलब किया गया है। बैंक से जुड़े ग्राहक के नाम का मोबाइल नम्बर और ई-मेल बदल कर इस तरह का फ्रॉड होता है।

Show More
santosh singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned