सडक़ पर सजा दी महिला की अर्थी, होने वाला था अंतिम संस्कार और फिर...

सडक़ पर सजा दी महिला की अर्थी, होने वाला था अंतिम संस्कार और फिर...
सडक़ पर सजा दी महिला की अर्थी, होने वाला था अंतिम संस्कार और फिर...

Lalit Kumar Kosta | Updated: 14 Jun 2019, 02:58:49 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

सडक़ पर सजा दी महिला की अर्थी, होने वाला था अंतिम संस्कार और फिर...

नरसिंगपुर। इंसान को जीते जी भले ही कुछ हासिल हो या ना हो लेकिन मौत के बाद भी अगर अंतिम संस्कार के लिए जमीन ना मिलना कितनी बदकिस्मती की बात है ऐसा ही कुछ हुआ सालीचौका के पोडार तिगड्डे में रहने वाले दलित परिवार सुखराम अहिरवार की वृद्ध मां छोटी बाई जिसकी उम्र 90 वर्ष के देहांत के बाद शव को यहां मुक्तिधाम न होने की वजह से कई घंटों इंतजार करना पड़ा.... दरअसल पहले यहां के वाशिंदे किसानों की निजी भूमि पर अंतिम संस्कार करते चले आये हैं पर जब आज किसी ने अंतिम संस्कार के लिए जमीन न दी तो आक्रोशित परिजनों और ग्रामीणों ने दाह संस्कार की लकड़ी स्टेट हाइवे 22 पर रख चकाजाम कर दिया.... इस बुजुर्ग महिला की मौत कल रात हो गई थी और सुबह से उनका शव अंतिम संस्कार की बाट जोह रहा है... ऐसे में सरकारी जमीन ना होने और सालीचौका नगर पंचायत प्रबंधन की लापरवाही का खामियाजा आज यहां के वाशिंदों को भोगना पड़ रहा है. सालीचौका नगर पंचायत से जुड़ने के वावजूद भी 5 साल होने को है लेकिन इस जगह पर मुक्तिधाम नही बनाया गया कई वर्षों से स्थानीय लोग ऐसे ही विवाद पहले भी हो चुके है।

 

funeral rituals in hinduism

कई घंटों के इंतजार के बाद जब मृतक के परिजनों को अंतिम संस्कार के लिए जगह नहीं मिली स्टेट हाईवे 22 के बीच अंतिम संस्कार की लकड़ी इकट्ठा करके जाम लगा दिया लगभग 1 घंटे तक जाम लगा रहा इस भीषण गर्मी में जाम में फंसे लोग बी हलकान रहे हालात को भांपते हुए आनन-फानन में गाडरवारा के एसडीएम राजेश शाह एसडीओपी सीताराम यादव सहित पुलिस विभाग की टीम मौके पर पहुंची जिसके बाद ग्रामीणों को समझाया गया और उन्हें कोटवार की सरकारी जमीन मुहैया कराकर जैसे तैसे अंतिम संस्कार के लिए राजी किया गया वहीं भविष्य में यहां मुक्तिधाम बनाये जाने का आश्वासन दिया गया ।

लोगों ने जाम को हटाया

भीषण गर्मी पारा सर चढ़ रहा ऐसे में एक घण्टे जाम में फसे लोग भी परेशान रहे शासन प्रशासन की उदासीनता के चलते आम जनता परेशान होती है अगर यही व्यवस्थाएं समय रहते हो जाएं तो ऐसे घटनाओं का सामना आम जनता को नहीं करना पड़ेगा लेकिन सुस्त पड़ा प्रशासन जब तक आम जनता की समस्याओं का हल नहीं करता जब तक वह विरोध नहीं करते. हुआ भी यही दो वर्षों से शमशान घाट की मांग करने वाले लोगों को आखिरकार कानून का उल्लंघन करना पड़ा तब जाकर उनकी मांग पर उन्हें अभी मात्र आश्वासन मिला है,

इनका कहना

अभी तत्काल एक अंतिम संस्कार की व्यवस्था कर दी गई है जल्दी सरकारी भूमि पर एक मुक्तिधाम का निर्माण कराया जाएगा जिससे लोगों को अंतिम संस्कार में परेशानी का सामना ना करना पड़े

- राजेश शाह एसडीएम गाडरवारा


लोगों हमने देखा वास्तव में लोगों को यहां पर अंतिम संस्कार के लिए बड़ी जद्दोजहद करना पड़ रही है शीघ्र ही नगर परिषद द्वारा एक मुक्तिधाम की व्यवस्था की जा रही है

- सीताराम यादव एसडीओपी गाडावारा

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned