नर्मदा में नहाने आए 6 लोग डूबे, 3 को नाविकों ने गहरे पानी से निकाला, मच गया कोहराम, देखें वीडियो

ग्वारीघाट के उमाघाट में हुआ हादसा

By: deepak deewan

Published: 24 May 2018, 11:14 AM IST

जबलपुर। नर्मदा के प्रसिद्ध ग्वारीघाट में गुरुवार को बड़ा हादसा होते-होते टल गया। यहां के उमाघाट पर नर्मदा नहाने करीब ८-१० लोगों का एक ग्रुप नहाते हुए गहरे पानी में चला गया। इनमें से ६ लोग डूबने लगे, २-३ युवक तो गहरे पानी मेंं डूब ही गए। लोगों को डूबता देख घाट पर कोहराम मच गया। ऐसे में वहां उपस्थित नाविकों ने तुरंत नर्मदा में छलांग लगाई और डूबते युवकों को बचा लिया। नाविकों ने गहरे पानी में समा गए युवकों को भी सुरक्षित बाहर निकाल लिया।


ग्वारीघाट पर आज सुबह से ही गहमागहमी थी। यहां गर्मियों के दौरान रोजाना दिनभर में औसतन १५-२० हजार लोग पहुंच रहे हैं लेकिन गंगा दशहरा के कारण गुरुवार को ज्यादा भीड़ थी। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार ग्वारीघाट के उमाघाट पर ८-१० लोगों का एक गु्रप नहा रहा था। इनमें से कुछ लोग नहाते-नहाते उस स्थान पर चले गए जहां नर्मदा बहुत गहरी है। गहराई में जाते ही ये सभी ६ लोग डूबने लगे। इनमें से २-३ लोग तो गहरे पानी में समा ही गए। यह नजारा देखकर हर कोई कांप उठा पर दैवयोग से वहां कई नाविक मौजूद थे जिन्होंने नर्मदा में गोता लगाते हुए सभी को बचा लिया। बाद में इस घटना के बारे में पुलिस थाने में जानकारी दी गई। पुलिस ने सभी लोगों के नाम-पता नोट किए। नाविकों के इस साहस की हर कोई सराहना कर रहा है।


गौरतलब है कि भीषण गर्मी से राहत पाने के लिए ग्वारीघाट, तिलवाराघाट समेत सभी प्रमुख नर्मदा तटों पर प्रतिदिन बड़ी संख्या में शहरवासी पहुंच रहे हैं। इनमें से कुछ स्नान, रेवा दर्शन और पूजन के लिए आते हैं। जबकि कुछ लोग तैराकी सीखने भी आते हैं।  जिन तटों पर नाविक मौजूद रहते हैं, वे स्वप्रेरणा से लोगों की मदद करते हैं। जिन तटों पर नाविक नहीं होते, वहां गोताखोर की भी तैनाती नहीं की गई है। जानकारी के अनुसार ग्वारीघाट में मंगलवार व शनिवार को २५-३० हजार लोग पहुंचते हैं। यहां १५० से ज्यादा नाविक भी रहते हैं जोकि तटों पर स्वप्रेरणा से लोगों की मदद करते हैं।

deepak deewan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned