प्रेमिका को बहन के घर पर बुलाया, फिर उस पर केरोसिन छिड़क-कर लगा दी आग, अब हुआ ये हाल

deepankar roy

Publish: Dec, 08 2017 10:25:05 (IST)

Jabalpur, Madhya Pradesh, India
प्रेमिका को बहन के घर पर बुलाया, फिर उस पर केरोसिन छिड़क-कर लगा दी आग, अब हुआ ये हाल

शादी का दबाव बनाने पर हुआ था विवाद

जबलपुर। एक युवक के एक महिला से प्रेम संबंध थे। दोनों का प्यार परवान चढ़ा तो वे एक-दूसरे के करीब आ गए। लेकिन जब बात शादी की आयी तो प्रेमी टालमटौल करने लगा। युवक ने एक दिन शादी की बहाने प्रेमिका को अपनी बहन के घर पर बुलाया। अंदर न जानें क्या बात हुई कि गुस्साएं प्रेमी ने प्रेमिका पर केरोसिन का तेल उड़ेल दिया और माचिस दिखा दी। बुरी तरह झुलसी प्रेमिका की उपचार के दौरान मौत हो गई। इस मामले में पुलिस ने प्रेमी के विरुद्ध हत्या का प्रकरण दर्ज किया। जिस पर गुरुवार को जिला अदालत में सुनवाई हुई। अदालत ने आरोपित हत्यारे को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है।


विवाह का दबाव
अतिरिक्त जिला लोक अभियोजन अधिकारी नीरज मल्होत्रा के अनुसार आरोपी वेदू उर्फ वेदप्रकाश धूरिया निवासी ग्वारीघाट का ब्रह्मश्री कॉलोनी निवासी युवती रज्जोबाई कहार से प्रेम सम्बंध था। रज्जो उस पर विवाह के लिए दबाव बना रही थी। इस पर आरोपित ने उसे आठ जुलाई २०१४ को अपनी बहन के घर सेठीनगर बुलाया। यहां दोनों के बीच विवाह को लेकर विवाद इतना बढ़ गया कि आरोपित ने प्रेमिका की हत्या कर दी।

पुन: विवाद पर लगाई आग
प्रेमिका और आरोपित के बीच विवाह को लेकर काफी समय से खींचतान चल रही थी। आरोपित ने जब उसे अपनी बहन के घर पर मिलने के लिए बुलाया तो प्रेमिका विवाह की जिद पर अड़ गई। पुन: विवाद होने पर उसने प्रेमिका पर केरोसिन डालकर आग लगा दी। प्रेमी द्वारा लगाई गई आग में प्रेमिका बुरी तरह झुलस गई। वह ९५ प्रतिशत झुला गई। उपचार के लिए उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। ताम प्रयास किए गए। लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

दोषसिद्ध करार
अस्पताल में प्रेमिका की मौत पर पुलिस ने भादंवि की धारा ३०२ के तहत प्रक रण दर्ज कर आरोपित को गिरफ्तार किया था। अंतिम सुनवाई के बाद कोर्ट ने आरोपित को दोषसिद्ध करार देते हुए सजा सुनाई गई। जिला अदालत ने ग्वारीघाट थाना क्षेत्र निवासी युवती के हत्यारे को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। एडीजे डीपीएस सिवाच की अदालत ने अपराधी को पांच हजार रुपए जुर्माने से भी दंडित किया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned