इंजीनियर के घर मिली सोने की ईंटें, अकूत दौलत देख चकराए अधिकारी

इंजीनियर के घर मिली सोने की ईंटें, अकूत दौलत देख चकराए अधिकारी

Lalit kostha | Publish: Sep, 07 2018 02:14:29 PM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

इंजीनियर के घर मिली सोने की ईंटें, अकूत दौलत देख चकराए अधिकारी

जबलपुर. जलसंसाधन विभाग के सेवानिवृत्त कार्यपालन यंत्री कोदू प्रसाद तिवारी के कटंगा एपीआर कॉलोनी स्थित बंगले की आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ की टीम द्वारा की गई जांच में परिजनों के नाम कटनी में चार और प्लॉट एवं 3 बैंक लॉकर से संबंधित दस्तावेज मिले है। सूत्रों के अनुसार इओडब्लू के नोटिस के बाद इंजीनियर के बेटा-बहू गुरुवार को शहर लौटे। इसके बाद सील किए गए घर का ताला तोड़ा गया। इओडब्ल्यू ने सर्चिंग की कार्रवाई शुरू की। जांच में इंजीनियर द्वारा परिजनों के नाम किए गए अन्य निवेश से संबंधित दस्तावेज भी मिले है। इनकी छानबीन की जा रही है। बरामद की गई संपत्ति का मूल्यांकन किया जा रहा है। इंजीनियर की कुल संपत्ति लगभग सौ करोड़ रुपए तक पहुंचने की संभावना है।

news facts- बेटे-बहू के शहर लौटने के बाद तोड़ी गई सील, इओडब्ल्यू ने खंगाला घर
रिटायर्ड इइ के बंगले की जांच, कटनी में चार प्लॉट और तीन बैंक लॉकर मिले

घर से गायब मिले थे सभी
आय से अधिक संपत्ति की शिकायत पर इओडब्लयू ने सिवनी में सिंचाई विभाग से रिटायर इंजीनियर केपी तिवारी के सतना जिले में स्थित दो आवास के साथ ही जबलपुर में कटंगा स्थित आवास पर बुधवार को एक साथ छापेमारी की गई थी। इस दौरान आरोपित सहित उनके परिजन घर से गायब मिले थे। सतना में रहने वाले इंजीनियर के शिमला और कटंगा में रहने वाले बेटा-बहू के रायपुर में होने की सूचना मिली थी। सभी को तुरंत इओडब्ल्यू के समक्ष उपस्थित होने के हिदायद दी गई थी। बुधवार को छापेमारी में इंजीनियर और उसके परिजनों के नाम पचास करोड़ रुपए से अधिक की संपत्ति होने का पता चला था।

प्रॉपर्टी में निवेश के कई दस्तोवज जब्त
डीएसपी राज्यवर्धन माहेश्वरी की टीम गुरुवार को दोपहर करीब 2 बजे इंजीनियर के कटंगा स्थित आवास में दोबारा पहुंची। सूत्रों के अनुसार इंजीनियर के बेटे राकेश तिवारी और बहू प्रीति तिवारी की उपस्थित में घरा का ताला तोड़ा किया गया। इसके बाद इओडब्ल्यू की टीम ने सर्चिंग की कार्रवाई शुरू की।

जांच में घर में प्रॉपर्टी संबंधी कई दस्तावेज मिले है। बैंक खाते, लॉकर और लेन-देन से जुड़े कई दस्तोवज बरामद हुए है। इससे माना जा रहा है कि इंजीनियर ने अपनी काली कमाई की मोटी रकम को प्रॉपर्टी में निवेश किया है। इनकी पड़ताल की जा रही है। परिजनों के नाम पर निवेश की और नई जानकारियां आने की संभावना है। अधिकारी मामले की जांच कर रहे हैं।

रिटायर्ड इंजीनियर के कटंगा स्थित आवास में गुरुवार को सर्चिंग की गई है। बरामद की गई संपत्तियों का मूल्यांकन किया जा रहा है। जांच अभी जारी है।
- समर वर्मा, एसपी, इओडब्ल्यू

Ad Block is Banned