दो लाख रुपए में सरकारी नौकरी, महिला बाल विकास विभाग में भर्ती के नाम पर धोखाधड़ी

दो लाख रुपए में सरकारी नौकरी, महिला बाल विकास विभाग में भर्ती के नाम पर धोखाधड़ी

Deepankar Roy | Publish: Apr, 17 2018 10:23:54 PM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

राज्य सरकार के पदों पर भर्ती प्रक्रिया

जबलपुर। सरकारी नौकरी के लिए मारामारी के बीच बेरोजगारों के साथ धोखाधड़ी के मामले भी लगातार सामने आ रहे है। एक ऐसा ही मामला मंगलवार को घमापुर थानांतर्गत सामने आया। थाना क्षेत्र में रहने वाले एक व्यक्ति की हसरत थी कि उसकी बेटी सरकारी नौकरी करें। बेटी ने जब महिला बाल विकास विभाग में नौकरी के लिए आवेदन किया तो पिता ने उसकी हर मदद का प्रयास किया। इस बीच उसकी बेटी की मुलाकात एक युवक से हुइ। युवक ने पिता-पुत्री को झांसा दिया और नौकरी लगवाने के बदले 2 लाख रुपए ऐंठ लिए। जब पिता-पुत्री को धोखाधड़ी के शिकार होने की बात समझ आयी तो उन्होंने पुलिस में शिकायत की। घमापुर पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

हड़प गया दो लाख रुपए
पुलिस ने बताया कि हनुमान होटल के पास रहने वाले मधुराम मेहतो की बेटी नीतू मेहतो ने वर्ष २०१४ में महिला एवं बाल विकास विभाग में नौकरी के लिए आवेदन किया। इस दौरान नीतू की मुलाकात मदन महल मर्सी कम्पाउंड निवासी अभिषेक भारद्वाज से हुई। अभिषेक ने कहा कि वह तीन माह के भीतर उसकी नौकरी लगवा देगा। इसके एवज में उसने दो लाख रुपए की मांग की। बेटी ने जब ये बात अपने पिता को बताइ तो उन्होंने दो लाख रुपए अभिषेक को दे दिए। लेकिन अभिषेक यह रकम हड़प गया।

दोगुनी रकम का लालच
पुलिस के अनुसार पीडि़ता ने शिकायत में बताया कि अभिषेक ने उसे नौकरी लगवाने की गारंटी दी। दो लाख रुपए लेते वक्त यह भी कहा कि यदि नौकरी नहीं लगी, तो वह दो गुना रकम वापस करेगा। नीतू ने यह बात पिता से कही, तो पिता भी अभिषेक की बातों में फंस गए। उन्होंने उसे रुपए दे दिए।

नौकरी के लिए लिया कर्ज
पुलिस को शिकायत में बताया गया कि पीडि़ता के पिता मधुराम ने अभिषेक को पैसे देने के लिए पहले अपने परिचितों से उधार मांगा। लेकिन किसी ने भी इतनी बड़ी रकम नहीं दी तो उन्होंने यहां-वहां से दो लाख रुपए कर्ज लिया और बेटी की नौकरी लगवाने के लिए अभिषेक को दे दिए।

धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज
पीडि़त ने नौकरी नहीं मिलने पर कई बार अभिषेक से पैसे वापस मांगे। लेकिन वह हर बार बात घुमा देता। कई बार कहने के बाद भी जब रुपए नहीं मिले, तो पीडि़त ने मामले की शिकायत घमापुर पुलिस से की। जांच के बाद पुलिस ने मंगलवार को आरोपित के खिलाफ धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज कर लिया। पुलिस आरोपित की तलाश कर रही है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned