मोबाइल व ईमेल हैक कर जालसाज ने 5.24 लाख निकाले

-बिलहरी निवासी पीडि़त ने स्टेट सायबर सेल में की शिकायत

By: santosh singh

Published: 28 May 2020, 12:22 PM IST

जबलपुर। सायबर जालसाजों ने बिलहरी निवासी युवक का मोबाइल नम्बर व ईमेल हैक कर उसकी पांच एफडी और खाते से 5.24 लाख रुपए निकाल लिए। पीडि़त ने कस्टम केयर सेंटर व बैंक में मामले की शिकायत की, लेकिन पैसा वापस नहीं हुआ। पीडि़त की शिकायत पर स्टेट सायबर सेल मामले की जांच में जुटी है। बिलहरी निवासी शिव कैलाश मिश्रा ने बताया कि उसका बैंक खाता कोटक बैंक में है। 22 दिसम्बर से चार फरवरी के बीच में जालसाज ने उसके पांच एफडी से पांच लाख और खाते से 24 हजार 448 रुपए निकाल लिए।
मोबाइल नम्बर व ई-मेल किया हैक-
जालसाज ने उसका बैंक में अधिकृत मोबाइल नम्बर और ईमेल तक हैक कर लिया था। बिना उसके मोबाइल पर कोई ओटीपी आए पैसे निकल गए। हैरानी की बात ये है कि एफडी तक जालसाज ने तोड़ दिया। तब से पीडि़त बैंक में भटक रहा था। कुछ दिन पहले उसने स्टेट सायबर सेल में मामले की शिकायत की। स्टेट सायबर सेल ने मामला दर्ज कर जांच में लिया है।

sp_sidharth_bhuguna.jpg
IMAGE CREDIT: patrika

सायबर फ्रॉड को लेकर एसपी ने जारी किया अलर्ट
सायबर फ्रॉड को लेकर एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने बुधवार को एक अलर्ट जारी किया है। लोगों को आगाह किया है कि वे सायबर अपराधियों के विभिन्न हथकंडे में न फंसे। उन्होंने सावधानी के लिए कुछ टिप्स भी दिए और हेल्पलाइन नम्बर जारी कर शिकार होने पर शिकायत दर्ज करने की अपील की। एसपी ने बताया कि सायबर अपराधी फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर मित्रों से पैसों की मांग फोन-पे, गूगल-पे और विभिन्न वॉलेट कम्पनियों के माध्यम से पैसे मांगे जा रहे हैं। इस तरह की मांग होने पर कॉल कर क्रॉस चेक कर लें।

इस नम्बर पर करें शिकायत-
9479974810
9425387506
7587616129
स्टेट सायबर सेल के इस नम्बर पर करें कॉल-
0761-2676711
7587646835
7587646809
7049157277
सायबर ठगी से बचने के लिए ये करें-
-कैशबैक के नाम से फोन आए तो इसके झांसे में न फंसे।
-वॉलेट में पैसे प्राप्त करने के लिए कभी भी पिन की आवश्यकता नहीं होती।
-एप से पिन मांगा जाए तो समझ लें कि आपको पैसे मिल नहीं रहे, बल्कि खाते से पैसे निकाले जा रहे हैं।
-किसी भी बैंक द्वारा कॉल कर खाते से सम्बंधित जानकारी नहीं मांगी जाती है।
-किसी कम्पनी, वॉलेट या बैंक या किसी सेवा का नम्बर गूगल पर सर्च न करें, शाखा या ऑफीसियल साइट से प्राप्त करें।
-आधार कार्ड, बैंक से समबंधित जानकारी, किसी लॉटरी के प्रलोभन आदि पर न दें।

Show More
santosh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned