scripthand grenade body,Gray Iron Foundry GIF,ordnance factories | सेना के लिए फिर बनेगी हैंड ग्रेनेड की बॉडी | Patrika News

सेना के लिए फिर बनेगी हैंड ग्रेनेड की बॉडी

जीआइएफ को फिर मिला है बड़ा ऑर्डर

जबलपुर

Published: June 13, 2022 12:20:28 pm

जबलपुर@ज्ञानी रजक. दुश्मन से आमने-सामने की लड़ाई में उपयोगी हैंड ग्रेनेड की बॉडी का उत्पादन इस वित्तीय वर्ष में भी व्यापक पैमाने पर होगा। रक्षा कंपनी यंत्र इंडिया लिमिटेड की इकाई ग्रे आयरन फाउंड्री (जीआइएफ) को इस बार भी इसका बड़ा ऑर्डर मिला है। ऐसें में कर्मचारियों के पास काम की कमी नहीं होगी। इसी प्रकार कुछ दूसरे प्रोडक्ट भी हैं जिनका उत्पादन किया जाएगा।

hand grenade bodies
GIF has again got a big order from the army

जीआएफ में मूल काम रक्षा उत्पादों की ढलाई का होता है। पूर्व से ही हैंड ग्रेनेड की बॉडी की ढलाई होती रही है। इसी तरह 110-120 किग्रा एरियल बम, धनुष तोप के कलपुर्जे और कुछ टैंकों के पार्ट्स भी तैयार किए जाते हैं। सूत्रों ने बताया कि फाउंड्री को पिछले साल की तुलना में इस ज्यादा संख्या में हैंड ग्रेनेड बॉडी तैयार करना है। इस लिहाज से यहां पर तैयारियां की जा रही हैं। इसके लिए जरुरी कच्चे माल की आपूर्ति भी शुरू की जा रही है।

ओएफके में बारूद भरण

ज्ञात है कि हैंड ग्रेनेड का इस्तेमाल सेना के अलावा अर्द्धसैनिक बलों के द्वारा किया जाता है। इसलिए इसकी मांग हमेशा से रहती है। देश की आयुध निर्माणियों में जीआइएफ ही ऐसी है, जहां प्रारंभ से इस उत्पादन को बनाया जाता रहा है। इसकी बॉडी तैयार होने के उपरांत आयुध निर्माणी खमरिया (ओएफके) में इसमें बारूद भरण का काम होता है। फिर ट्रायल के उपरांत इसे सेना के सुपुर्द किया जाता है।

हैंड ग्रेनेड बॉडी का उत्पादन व्यापक पैमाने पर किया जाना है। अभी एक लॉट आया है। जल्द और लॉट मिलेंगे। यह फाउंड्री और कर्मचारियों के लिए उपलिब्ध होगी। क्योंकि पूरा ऑर्डर मिलने पर कुल उत्पादन में बड़ा हिस्सा केवल हैंड ग्रेनेड का होगा।

राजीव कुमार, महाप्रबंधक जीआइएफ

Sharang cannon

शारंग तोप भी होगी तैयार

जीआइएफ में न केवल रक्षा उत्पादों की ढलाई का काम किया जाता है बल्कि कर्मचारियों ने 155 एमएम 45 कैलीबर शारंग तोप तैयार करने में भी कामयाबी हासिल की है। फाउंड्री ने कम समय में ही इसे तैयार कर ट्रायल के लिए भेजा था। उसमें उसे सफलता भी मिली थी। सूत्रों ने बताया कि इस वित्तीय वर्ष में भी 40 से अधिक तोपें यहां तैयार की जानी हैं। इसके लिए कच्चा माल फाउंड्री प्रबंधन ने मंगवाना शुरू कर दिया है। इसी तरह वीएफजे और जीसीएफ में भी इसका काम हो रहा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उलटफेर: एकनाथ शिंदे ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी सीएमMaharashtra Politics: बीजेपी ने मौका मिलने के बावजूद एकनाथ शिंदे को क्यों बनाया सीएम? फडणवीस को सत्ता से दूर रखने की वजह कहीं ये तो नहीं!भारत के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड को मिला नया कप्तान, दिग्गज को मिली बड़ी जिम्मेदारीउदयपुर कन्हैयालाल हत्याकांडः कानपुर से आतंकी कनेक्शन, एनआईए की टीम जल्द जा कर करेगी छानबीनAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शरद पवार ने किया बड़ा दावा- फडणवीस डिप्टी सीएम बनकर नहीं थे खुश, लेकिन RSS से होने के नाते आदेश मानाUdaipur Murder: आरोपियों को लेकर एनआईए ने किया बड़ा खुलासा, बढ़ी राजस्थान पुलिस की मुश्किल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.