scriptHandpump-tubewell dried up in jabalpur, ground water level down | नर्मदा किनारे बसे इस शहर में सूख गए हैंडपम्प- ट्यूबवेल, तेजी से गिरा जलस्तर | Patrika News

नर्मदा किनारे बसे इस शहर में सूख गए हैंडपम्प- ट्यूबवेल, तेजी से गिरा जलस्तर

नर्मदा किनारे बसे इस शहर में सूख गए हैंडपम्प- ट्यूबवेल, तेजी से गिरा जलस्तर

जबलपुर

Published: May 07, 2022 10:17:22 am

जबलपुर। मदर टेरेसा नगर में कई ट्यूबवेल सूख गए, मानेगांव, मोहनिया के हैंडपंप से हवा निकल रही है। करमेता, डुमना, गधेरी, चकदेही इलाकों में भी जलस्रोत सूख रहे हैं। गर्मी बढऩे के साथ भू जल स्तर में तेजी से गिरावट आ रही है। भू जल विदें के अनुसार कई इलाकों के भू जल स्तर में 20 से 30 फीट तक की गिरावट दर्ज की गई। विशेषज्ञों के अनुसार अंधाधुंध दोहन इसका सबसे बड़ा कारण है।

demo pic
demo pic

अंधाधुंध दोहन: भूगर्भीय जलस्तर में तेजी से हो रही गिरावट


हैरत की बात तो ये है की नगर में नर्मदा, परियट व खंदारी जलाशय की मौजूदगी के बावजूद नगर निगम तीन हजार के लगभग जल स्रोतों से भूगर्भीय जल का जमकर दोहन कर रहा है। नगर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में भूगर्भीय जल का उपयोग करने के लिए पांच सौ से लेकर सात सौ फीट तक गहरे ट््यूबवेल खोदे गए हैं। होटल, रेस्टोरेंट, बारातघर, वर्कशॉप में सबसे ज्यादा गहरे ट््यूबवेल हैं।

Handpump
IMAGE CREDIT: patrika

30 जून तक प्रतिबंध
भू जल स्तर में गिरावट को देखते हुए 30 जून तक जिले में सभी सरकारी व निजी नलकूपों के खनन पर रोक लगा दी गई है। जिले की सीमा में नलकूप खनन की मशीनों के बिना अनुविभागीय अधिकारी राजस्व की अनुमति के प्रवेश पर भी रोक लगा दी है। कलेक्टर के आदेश के अनुसार राजस्व व पुलिस अधिकारी अवैध रूप से प्रतिबंधित स्थानों पर प्रवेश करने वाली नलकूप खनन की मशीनों को या नलकूप खनन का प्रयास करने वाली मशीनों को जप्त कर एफआईआर दर्ज करने अधिकृत किया गया है।


भूगर्भीय जल का नगर निगम कर रहा है जमकर दोहन
- 2048 हैंडपंप
- 908 ट्यूबवेल संचालित
- 10 हाईडेंट से जलापूर्ति
- 150 फेरे टैंकर से आपूर्ति
- 4500 लीटर का है एक टैंकर

यहां भी गहरे ट्यूबवेल
- 200 के लगभग होटल, रेस्टोरेंट, लॉन, बारातघर
- 250 से ज्यादा टाउनशिप में
- 5 के लगभग औसतन रोजाना नए ट्यूबवेल खोदे गए रोक लगने के पहले तक
- 12 से ज्यादा बोरवेल खनन कंपनी हैं नगर में


निजी से लेकर सरकारी भवन, सडक़, फुटपाथ पूरे स्ट्रक्च्रर का कांक्रीटेड निर्माण किया जा रहा है। बरसात का पानी सोखने खाली ही नहीं छोड़ी जा रही है, जल संवर्धन इकाई विकसित करने भी ठोस प्रयास नहीं हो रहे हैं।
- इंजी.सुनील जैन, स्ट्रक्चर इंजीनियर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मीन राशि में वक्री होंगे गुरु, इन राशियों पर धन वर्षा होने के रहेंगे आसारइन राशियों के लोग काफी जल्दी बनते हैं धनवान, मां लक्ष्मी रहती हैं इन पर मेहरबानभाग्यवान होती हैं इन नाम की लड़कियां, मां लक्ष्मी रहती हैं इन पर मेहरबानऊंची किस्मत वाली होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, करियर में खूब पाती हैं सफलताधन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीपनीर, चिकन और मटन से भी महंगी बिक रही प्रोटीन से भरपूर ये सब्जी, बढ़ाती है इम्यूनिटीweather update news..मौसम की भविष्यवाणी सटीक, कई जिलों में तूफानी हवा के साथ झमाझमस्कूल में 15 साल के लड़के से बनाए अननेचुरल संबंध, वीडियो भी बनाया

बड़ी खबरें

Udaipur Murder Case: पूरे देश में तनाव का माहौल, दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा- CM Ashok Gehlot, देखें Video...Udaipur : उदयपुर में आगजनी-पत्थरबाजी, इंटरनेट बंद, कर्फ्यू लगाया, पूरे राज्य में अलर्टUdaipur में नूपुर शर्मा के सपोर्ट में पोस्ट करने पर युवक की गला काटकर हत्या, सोशल मीडिया पर जारी किया वीडियोMaharashtra Political Crisis: पुत्र और प्रवक्ता बालासाहेब के शिवसैनिकों को बोल रहे भैंस-कुत्ता, उद्धव ठाकरे की अपील का एकनाथ शिंदे ने दिया जवाबPunjab: सीएम भगवंत मान का ऐलान, अग्निपथ के खिलाफ विधानसभा में लाएंगे प्रस्ताव, होगा किसान आंदोलन जैसा विरोध!Maharashtra Political Crisis: जेपी नड्डा के आवास पर पहुंचे देवेंद्र फडणवीस, इस मुद्दे पर हो सकती है चर्चाMaharashtra: ईडी ने शिवसेना नेता संजय राउत को फिर भेजा समन, जमीन घोटाले के मामले में 1 जुलाई को पेश होने के लिए कहाEoin Morgan Retirement: 35 की उम्र में संन्यास लेने वाले Eoin Morgan ने क्रिकेट में इंग्लैंड के लिए बनाए गए 5 खास रिकॉर्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.