Health Tips : मौसम में बार-बार बदलाव से बीमार पड़ रहे लोग, ऐसे करें बचाव

Health Tips : मौसम में बार-बार बदलाव से बीमार पड़ रहे लोग, ऐसे करें बचाव

Abhishek Dixit | Publish: Mar, 19 2019 05:44:21 PM (IST) | Updated: Mar, 19 2019 05:44:22 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

सर्दी, बुखार के साथ गले में खिचखिच, फंस रही आवाज

जबलपुर. मौसम के बार-बार मूड बदलने के साथ ही बीमारियों का संक्रमण भी स्वरूप बदल रहा है। इस सीजन में आमतौर पर सर्दी-खांसी और बुखार के मरीज आते थे। लेकिन, इस बार वायरल बुखार के पीडि़तों को सर्दी के साथ गले में खरांश हो रही है। बोलने में उनकी आवाज फंस रही है। मेडिकल अस्पताल की ओपीडी में हर दिन सर्दी-बुखार के साथ गले में संक्रमण के शिकार मरीज आ रहे है। मेडिकल मेडिसिन ओपीडी में उपचार कराने के लिए आए मरीजों का आंकड़ा सवा तीन सौ के पार चला गया है। बुखार से पीडि़त मरीजों में अधिकतर मरीज गला पकडऩे के कारण आवाज निकलने में परेशानी की शिकायत कर रहे हैं।

मरीजों की संख्या बढ़ी
चिकित्सकों का मानना है कि इस सीजन में पिछले वर्ष के मुकाबले उपचार के लिए आने वाले मरीजों की संख्या अधिक है। मौसम के बार-बार रुख बदलने से तापमान में उतार-चढ़ाव आ रहा है। मौसम का मिजाज तेजी से बार-बार बदलने से लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता प्रभावित हो रही है। लोग मौसमी बीमारियों के संक्रमण का शिकार हो रहे है। सोमवार को मेडिकल अस्पताल की ओपीडी में करीब डेढ़ हजार मरीज पहुंचे। इस सीजन में पहले मरीजों की संख्या ओपीडी में एक हजार से कम ही रहती थी।

त्वचा, हड्डी की समस्या बरकरार
मेडिकल अस्पताल की ओपीडी में सोमवार को 14 सौ से अधिक मरीज उपचार कराने के लिए पहुंचे थे। सबसे ज्यादा मरीज मेडिसिन ओपीडी में थे। त्वचा विज्ञान, हड्डी और सर्जरी के लिए आने वाले मरीजों की संख्या भी ओपीडी में लगातार बनी हुई है। इसके बाद नाक, कान एवं गला (इएनटी) और पीडियाट्रिक ओपीडी में भी मरीजों की संख्या बढ़ रही है। सर्दी, गले में संक्रमण के साथ ही बुखार से पीडि़त मरीजों की प्रतिदिन कतार लग रही है।

इस सीजन में मरीज कम नहीं हो रही है। मौसमी बीमारियों से पीडि़त मरीज लगातार बढ़ रहे है। पिछले साल के मुकाबले अधिक मरीज पंजीकृत हो रहे है। अस्पताल में व्यवस्थाओं में भी निरंतर सुधार हो रहा है। इसलिए भी मरीज बढ़े हैं।
डॉ. राजेश तिवारी, अधीक्षक, गवर्नमेंट मेडिकल अस्पताल

आमतौर पर वायरल बुखार के साथ लोगों में इस मौसम में सर्दी और खांसी होती थी। लेकिन, इस बार लोगों को सर्दी के साथ ही गले का संक्रमण हो रहा है। मरीज गला पकडऩे और बोलने में परेशानी की शिकायत लेकर आ रहे है। इनका उचित उपचार किया जा रहा है।
डॉ. कविता एन. सचदेव, नाक, कान एवं कला रोग विशेषज्ञ

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned