इस ड्राई फ्रूट के सेवन से कभी नहीं होता हार्ट अटैक

अब बुजुर्गों को ही नहीं बल्कि जवानों यहां तक कि बच्चों को भी यह बीमारी होने लगी है

By: deepak deewan

Published: 16 May 2018, 02:40 PM IST

जबलपुर। हार्ट अटैक का खतरा दिनों-दिन बढ़ता ही जा रहा है। अब बुजुर्गों को ही नहीं बल्कि जवानों यहां तक कि बच्चों को भी यह बीमारी होने लगी है। डाक्टर्स के मुताबिक बचपन से ही खानपान में आवश्यक सतर्कता बरतें तो हार्ट से संबंधित बीमारियों से बचा जा सकता है। डाक्टर विनीत इंगोले ऐसी ही कुछ खाद्य सामग्रियों के बारे में बता रहे हैं जिनसे हार्ट अटैक की आशंका बहुत हद तक कम हो जाती हैं।

कोरोनरी डिजीज और स्ट्रोक का खतरा कम : सफेद ब्रेड की जगह सभी अनाजों से बनी हुई बे्रड से कोरोनरी डिजीज और स्ट्रोक का खतरा कम हो जाता है। इस तरह के फूड का सेवन से करने से हृदय रोगों का खतरा भी कम हो जाता है। इसलिए आपको अपनी डाइट में सभी तरह के साबुत अनाजों को शामिल करना चाहिए। साबुत अनाज में फाइबर भी भरपूर होता है।


फायदेमंद हैं डाई फ्रूटस : कई तरह की स्टडीज से यह सामने आया है कि नट्स में मोनोसैच्युरेटेड फैट होता है, जो कि हार्ट हेल्थ के लिए बहुत अच्छा होता है। यदि नियमित रूप से नट्स का सेवन किया जाए तो प्रोटीन मिलने के साथ ही कोरोनरी डिजीज का रिस्क भी कम हो जाता है लेकिन रोस्टेड नट्स का सेवन न करें।


चॉकलेट है काम की : यदि रोजाना २० ग्राम डार्क चॉकलेट खाई जाए तो इससे ब्लड फ्लो ठीक रहता है। यह बात कई तरह के अध्ययनों से सामने आई है। दरअसल डॉर्क चॉकलेट में कोको की मात्रा ज्यादा होती है, जो ब्लड क्लोट बनने से रोकता है।


हरी पत्तेदार सब्जियां : पालक, मेथी पत्ता, मूली का पत्ता, पत्ता गोभी आदि हार्ट रिस्क और कैंसर का खतरा कम करती हैं। दरअसल हरी पत्तेदार सब्जियों में फैट और कैलोरी की मात्रा कम होती है। साथ ही फाइबर की मात्रा भी ज्यादा होती है। इसके अलावा इसमें फॉलिक एसिड, मैग्नीशियम, कैल्शियम, पोटेशियम की मात्रा भी ज्यादा होती है।
कद्दू के बीज : कद्दू के बीज में मैग्नीशियम की मात्रा ज्यादा होती है, जो कि हार्ट के लिए हेल्दी होने के साथ ही तनाव को भी दूर करने में असरदार होते हैं। इसके अलावा इन सीड्स में प्रोटीन और हेल्दी फैट भी पाया जाता है, जो वजन को भी कंट्रोल करता है।


अलसी खाएं : अलसी में फाइबर, फाइटोकेमिकल्स, जिसे लिग्नंस कहते हैं और ओमेगा-३ फैटी एसिड होता है, जो हार्ट को हेल्दी रखने का काम करते हैं। अलसी की तरह ही ओट्स भी खराब कोलेस्ट्रोल का लेवल कम करते हैं। खाने में जैतून का तेल उपयोग में लें। इसमें मोनोसैचुरेटेड फैट होता है, जो हार्ट को हेल्दी रखता है।

deepak deewan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned