health tips- जरा संभलकर... इस नमकीन को खाने से हो सकता है हार्ट अटैक

deepankar roy

Publish: Oct, 12 2017 07:34:42 (IST)

Jabalpur, Madhya Pradesh, India
health tips- जरा संभलकर... इस नमकीन को खाने से हो सकता है हार्ट अटैक

खाद्य एवं औषधि विभाग को मिली गड़बड़ी, एमएसएफ एसिड के उपयोग से सेहत पर खतरनाक असर

जबलपुर। बाजार में बिकने वाले क्रिस्पी नमकीन का स्वाद अगर आपकी जुबान पर चढ़ा हुआ तो उसको चखने से पहले जरा संभल जाइए। आपके मुंह में स्वाद घोलने वाला यह नमकीन आपके दिल तक असर कर रहा है। बाजार में बिकने वाले नमकीन को क्रिस्पी और स्वादिष्ट बनाने के लिए निर्माता खतरनाक रसायन का इस्तेमाल कर रहे है। इस रसायन की अधिक मात्रा से लोगों में हार्ट ब्लॉकेज की शिकायत सामने आ रही है। नमकीन में सेहत को नुकसान पहुंचाने वाले रसायन की मिलावट की शिकायत के बाद गुरुवार को खाद्य एवं औषधि विभाग की टीम ने कई होटल और मिष्ठान्न भंडारों की जांच की है। नमूने जब्त करके जांच के लिए भेजे है। जांच के बीच खतरनाक रसायन की मिलावट से मुंह में पानी लाने वाले नमकीन के सेवन से हार्ट अटैक का खतरा बढ़ गया है।
त्योहार के चलते की गई जांच
खाद्य एवं औषधि विभाग ने कार्रवाई करते हुए नमकीन के नमूने इसी एसिड की अधिकता के संदेह में एकत्र किए हैं। खाद्य अधिकारी अमरीश दुबे के अनुसार विभाग की टीम ने पांच प्रतिष्ठानों का निरीक्षण कर मिठाई व नमकीन के नमूने लिये हैं। इन नमूनों को जांच के लिए भोपाल भेजा गया है। आने वाले दिनों में त्योहार में नमकीन की भारी मात्रा में बिक्री की संभावना है। इसके चलते मिलावट की आशंका भी बढ़ गई है।
मिलावट करके बढ़ा रहे एक्सपायरी डेट
बाजार में बिक रहे नमकीन में मोनो सैच्युरेटेड फैटी (एमएसएफ) एसिड का निर्धारित मात्रा से अधिक उपयोग किया जा रहा है। ऐसा नमकीन को स्वादिष्ट बनाने के साथ ही उसकी एक्सपायरी डेट बढ़ाने के लिए किया जा रहा है। एमएसएफ एसिड युक्त तेल में तली गई खाद्य सामग्री ढाई से तीन महीने तक खाने लायक बनी रहती है। इसके अलावा खाद्य सामग्री में क्रिस्पीनेस और स्वाद भी बढ़ जाता है। इसलिए अधिकांश मिष्ठान्न व नमकीन प्रतिष्ठान संचालक नमकीन बनाने के लिए ऐसे तेल का उपयोग करते हैं, जिसमें एमएसएफ की मात्रा अधिक होती है।
पॉम ऑइल में अधिक मात्रा में एसिड
एमएसएफ एसिड आमतौर पर खाद्य तेल में होता है। तेल कंपनियां ऑयल रिफायन करते उसकी मात्रा उत्पाद और कीमत के अनुसार तय करते हैं। इस एसिड की सबसे ज्यादा मात्रा पॉम ऑयल में पाई जाती है। जानकारों की मानें तो इसकी अधिकता के कारण लोगों को हार्ट ब्लॉकेज की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। इसके साथ ही ये एसिड कोलेस्ट्रॉल भी बढ़ाता है, जिससे हॉर्ट अटैक की आशंका बढ़ जाती है। ।
5 प्रतिशत से अधिक मात्रा खतरनाक
सरकार ने अधिसूचना जारी करके एमएसएफ एसिड की तेल में मात्रा निर्धारित कर दी है। इसके तहत एसिड की 5 प्रतिशत तक की मात्रा ही तेल में होना चाहिए। यदि एसिड की मात्रा इससे ज्यादा पाई जाती है तो खाद्य सामग्रियों को अमानक या सब-स्टैण्डर्ड माना जाएगा। इसके साथ ही ऐसे एसिड युक्त तेल का उपयोग करने वाले प्रतिष्ठनों के खिलाफ कार्रवाई का प्रावधान है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned