नवरात्रि से पहले इस मंदिर में मिला खजाना

नवरात्रि से पहले इस मंदिर में मिला खजाना

Lalit Kumar Kosta | Publish: Mar, 14 2018 11:21:49 AM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

खजाना गिनने में लगे रहे दर्जनों लोग, पूरे दिन चली गिनती

जबलपुर। नवरात्रि आने में अभी पांच दिन शेष हैं, मंदिरों से लेकर सिद्ध देवी दरबारों में तैयारियां अंतिम चरणों में हैं। कही जवारे बोए जाएंगे तो कहीं अखंड ज्योति प्रज्ज्वलित की जाएंगी। जबलपुर शहर के समस्त देवी दरबारों में नौ दिनों तक उत्साह उमंग और भक्ति के नजारे सुबह शाम देखे जा सकेंगे। वहीं देवी दरबारों में विविध धार्मिक आयोजनों की तैयारियां भी की जा रही हैं। इसी क्रम में ऐतिहासिक देवी दरबार त्रिपुर सुंदरी मंदिर में विशेष तैयारियां की जा रही हैं। इसी को लेकर मंदिर प्रबंधन द्वारा माता के दान पेटियां खोली गईं। जिसमें लाखों रुपए का दान मिला है।

READ MORE-

नवरात्रि पर इस सिद्ध पीठ देवी दरबार में रुकेंगी डेढ़ दर्जन ट्रेनें

नवरात्रि 2018- माता को प्रसन्न करने के सिद्ध और आसान उपाए

नवरात्रि के श्रेष्ठ घटस्थापना शुभ मुहूर्त और वैदिक स्थापना विधि

फैक्ट-
तेवर स्थित मंदिर में खुली दानपेटी की पहले दिन गिनती
मां त्रिपुर सुंदरी को 5.67 लाख रुपए का चढ़ावा
दो लाख से ज्यादा के सिक्के चढ़ाए गए, 10 घंटे तक हुई नोटों व सिक्कों की गिनती

तेवर स्थित त्रिपुर मंदिर की मंगलवार को दानपेटी खुली। ढाई माह बाद खुली दानपेटी में सुबह १० बजे से रात ८ बजे तक नोटों की गणना की गई। दान पेटी में 5 लाख ६७ हजार ८३० रुपए रुपए का चढ़ावा निकला। दान में सोने और चांदी के आभूषण भी आए हैं। समय ज्यादा हो जाने के कारण इनकी गणना नहीं हो सकी। अब बुधवार को इनकी गणना होगी।

मंदिर प्रबंध समिति के शिव पटेल ने बताया कि नवरात्रि के पहले दानपेटी खोली गई है। इस बार जो रकम आई है उसमें २ लाख ३३ हजार ९०० रुपए के सिक्के आए हैं। इनमें एक, दो, पांच व दस के सिक्के शामिल हैं। सबसे ज्यादा एक व दस के सिक्के आए हैं। पुलिस-प्रशासन और बैंक अधिकारियों की मौजूदगी में गिनती की गई। ४७ हजार रुपए कार्यालय की रसीद बुक से प्राप्त हुए है। इस मौके पर एसडीएम जबलपुर नम: शिवाय अरजरिया, जनपद पंचायत के सीईओ मनोज कुमार सिंह, मङ्क्षदर प्रबंधन समिति के विक्रम सिंह चौहान, योगेन्द्र पटेल, पार्षद राजकुमार पटेल, पुजारी रमेश दुबे व भेड़ाघाट थाना प्रभारी एमडी नागोतिया भी उपस्थित थे।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned