#kabali रजनीकांत के फैन जैसी है इनकी दीवानगी, दिव्या भारती की करता है पूजा

आपने फिल्म स्टारों के फैन तो देखे होंगे, लेकिन हम यहां ऐसे फैन के बारे में बता रहे हैं जो फिल्म स्टार की मौत के बाद भी उन्हें बेपनाह मोहब्बत करता है, रोज अगरबत्ती लगाकर पूजा करता है।


नीरज मिश्र @ जबलपुर। इन दिनों राजनीकांत अपनी फिल्म कबाली को लेकर चर्चा में हैं। साउथ इंडिया में उनकी दीवानगी कुछ इस तरह है कि फिल्म रिलीज के दिन छुट्टी घोषित कर दी गई। उनके लाखों फैन हैं। कई फैन की दीवानगी इस तरह है कि वे उन्हें भगवान की तरह पूजते हैं। यहां हम भी एक ऐसे फैन का जिक्र कर रहे हैं, जो एक हीरोइन का फैन है। हालाकि हीरोइन की मौत हो चुकी है, इसके बाद भी यह फैन उनकी रोजना पूजा करता है। 


कटनी के सुभाष चौक पर पान की दुकान लगाने वाले सुरेश सौंधिया फिल्म स्टार दिव्या भारती के फैन हैं। दिव्या भारती का निधन 1993 में रहस्यमय परिस्थितियों में हो गया था, फिर भी सुरेश की दीवानगी कम नहीं हुई। वे आज भी दुकान में दिव्या की फोटो लगाकर रोजना पूजा करते हैं। वे रोजना दिव्या की फोटो पर माला चढ़ाते हैं और अगरबत्ती लगाते हैं। दिव्या की पूजा करने को लेकर वे पूरे जिले में चर्चा में बने हुए हैं।


ऐसे हुई मोहब्बत

सुरेश बताते हैं कि जब वे 12 साल के थे तो उन्होंने दिव्या भारती की पहली हिन्दी फिल्म विश्वात्मा देखी। फिल्म में दिव्या का किरदार उन्हें इतना पसंद आया कि वे केवल उसके बारे में ही सोचते रहते थे। इसके बाद जब भी दिव्या की फिल्म देखने का मौका मिलता वे जरूर देखते। घर भी दिव्या की फोटो और पोस्टर से पट गया। दिव्या की दीवानगी को लेकर उनके पिता अकसर डांटा करते।

divya bharti

20 साल से दुकान में लगी है फोटो

सुभाष अब 40 की उम्र पार कर चुके हैं। पिछले 20 वर्षों से वे अपना पुश्तैनी धंधा पान की दुकान संचालित कर रहे हैं। 20 साल पहले उन्होंने दुकान पर दिव्या की फोटो लगाई थी, जो आज भी उनकी दुकान की पहचान बनी हुई है। उनकी दुकान पर खासी भीड़ रहती है। दूर-दराज से लोग उन्हें पूछने आते हैं। 


जब पत्नी ने फेक दी तस्वीर

सुरेश ने बताया कि उनके दो बच्चे हैं। घर में भी वे अकसर दिव्या भारती के पोस्टर लगाते थे। एक दिन पत्नी ने उनके पोस्टर फेक दिए। इसको लेकर दोनों के बीच में विवाद भी हुआ। हालाकि बाद में सुलह भी हो गई। अब पत्नी को दिव्या भारती के पोस्टर से कोई दिक्कत नहीं होती है।

divya bharti

ये है दिव्या भारती का जीवन

1974 में जन्मी दिव्या भारती ने  तेलगू फिल्म बोब्बिली राजा से कैरियर की शुरूवात की। शुरुवात में उन्होंने तेलगू और तमिल फिल्मों में काम किया। हिन्दी फिल्म विश्वात्मा से उन्होंने हिन्दी फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखा। सात समन्दर पार में तेरे पीछे-पीछे आ गई...गाने ने उन्हें खासी पहचान दिलाई। अपने ढाई वर्ष के फिल्मी कैरियर में दिव्या ने 14 हिन्दी और सात दक्षिण भारतीय फिल्मों में काम किया। कम उम्र में ही उन्होंने फिल्मी पर्दे पर अपनी छाप छोड़ी। 1993 में रहस्यमय परस्थितियों में उनकी मौत हो गई।
Show More
neeraj mishra
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned