जलने पर नहीं पड़ेंगे फोले, न होगी तकलीफ, आजमाएं ये घरेलू उपाए

जलने पर नहीं पड़ेंगे फोले, न होगी तकलीफ, आजमाएं ये घरेलू उपाए
home remedies for burns in hindi

Lalit Kumar Kosta | Publish: Aug, 27 2018 02:39:35 PM (IST) | Updated: Aug, 27 2018 02:39:36 PM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

जलने पर नहीं पड़ेंगे फोले, न होगी तकलीफ, आजमाएं ये घरेलू उपाए

 

जबलपुर। अक्सर महिलाएं किचिन में काम करते समय तेल, आग, दूध या गर्म पानी से जल जाती हैं। वे कहती तो किसी ने नहीं हैं, लेकिन उनकी तकलीफ बहुत बड़ी होती है। कई बार वे ज्यादा जल जाती हैं, तब कहीं डॉक्टर के पास जाने की बात सामने आती है। नहीं तो छोटे मोटे जलने की बातें वे किसी से नहीं कहा करती हैं। बाकी पुरुष या बच्चे भी ऐसी घटनाओं से सामना करते हैं। ऐसे में जबलपुर पत्रिका आपको कुछ कारगर घरेलू उपायों को बताने जा रहा है, जो जलने में बहुत बड़े सहायक बन सकते हैं।

news fact-

त्वचा के जलने पर इन उपचारों से मिलेगी तुरंत राहत
गर्म पानी, दूध, चाय या तेल के जलने पर तुरंत घरेलू उपाय आजमाए जाएं तो त्वचा पर फफोला नहीं पड़ेगा

 

ये हैं कारगर घरेलू उपाए-
आलू का छिलका लगाएं - आलू का छिलका या फिर आलू पीसकर जले हुए घाव पर लगाने से जलन से जल्दी राहत मिलती है। यह त्वचा को ठंडक पहुंचाकर त्वचा पर फफोला नहीं बनने देता है।
हल्दी का पानी - जलने के तुरंत बाद हल्दी वाला पानी लगाना भी फायदेमंद होता है। इससे भी दर्द और जलन में राहत मिलती है। हल्दी में एंटी बैक्टीरियल और एंटी इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज होती हैं, जो त्वचा के प्राथमिक उपचार के लिए बहुत कारगर है।

एलोवेरा जैल - आग से जलने पर घाव ठीक करने में एलोवेरा बहुत असरदार है। फ्रेश एलोवेरा के पत्ते के जेल को सीधे जली हुई जगह पर डालकर धीरे-धीरे लगाएं। बेहतर परिणाम पाने के लिए आप इसमें एक चम्मच हल्दी डालकर भी लगा सकते हैं।
नारियल का तेल - जला हुआ घाव जब थोड़ा ठंडा और सूख जाए तो नारियल के तेल और नींबू के रस का प्रयोग किया जाना चाहिए। नारियल के तेल में विटामिन ई और फैटी एसिड है, जिसमें एंटी फंगल, एंटी ऑक्सीडेंट्स और एंटी बैक्टीरियल गुण है। यह घाव पर संक्रमण होने से रोकता है।

शहद का लेप करें - शहद में एंटी बैक्टीरियल और एंटी इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज होती हंै, जो घाव को इंफेक्शन से बचाती है। चाहें तो शहद को घाव पर लगाकर ऊपर से पट्टी भी बांध सकते हैं। इस पट्टी को दिन में तीन-चार बार बदलें।
काली चाय का पाउडर - काली चाय में टैनिक एसिड होता है, जली त्वचा से हीट बाहर निकालने का काम करता है। इसके लिए तीन टी बैग को गर्म पानी से भरी एक मटकी में कुछ देर के लिए डुबोएं, जब पानी ठंडा हो जाए तो इसमें एक कपड़े को भिगोकर त्वचा पर दिन में तीन-चार बार लगाएं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned