scripthuman story of heartbreaking, harassment of son and daughter-in-law | बुजुर्गों ने सुनाई अत्याचार की कहानी तो रो पड़े अधिकारी, पढ़ें पूरी कहानी | Patrika News

बुजुर्गों ने सुनाई अत्याचार की कहानी तो रो पड़े अधिकारी, पढ़ें पूरी कहानी

locationजबलपुरPublished: Dec 30, 2023 12:40:09 pm

Submitted by:

Lalit kostha

बुजुर्गों ने सुनाई अत्याचार की कहानी तो रो पड़े अधिकारी, पढ़ें पूरी कहानी

human story
human story

जबलपुर. जब घर में बच्चे की पहली किलकारी गूंजती है तो मां की खुशी का ठिकाना नहीं होता। बच्चा जब पहली बार चलना सीखता है तो पिता का सीना गर्व से फूल जाता है। बच्चे की हर खुशी, हर चाहत के लिए माता पिता अपनी पूरी जिंदगी लगा देते हैं, लेकिन माता-पिता के बुजुर्ग होने पर जब बच्चे उनका ध्यान नहीं रखते तो यकीन करना मुश्किल होता है। जिले में रोज ऐसे प्रकरण कलेक्टर और एसडीएम के पास आ रहे हैं। जिले की सभी 10 तहसील की बात करें तो 150 से अधिक प्रकरण माता-पिता एवं वरिष्ठ नागरिक भरण पोषण अधिनियम 2007 के तहत चल रहे हैं। इनमें 90 प्रतिशत प्रकरण ऐसे हैं जिसमें माता-पिता अपनी ही संतान से सताए हुए हैं।