48 घंटे में गेहूं नहीं खरीदा तो मैनेजर जिम्मेदार

48 घंटे में गेहूं नहीं खरीदा तो मैनेजर जिम्मेदार
wheats

Gyani Prasad | Publish: Apr, 07 2019 01:08:04 PM (IST) | Updated: Apr, 07 2019 01:08:05 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

गेहूं की खरीदी के लिए समितियों के लिए बना नया नियम, किसानों को राहत



 

जबलपुर. जिले में गेहूं खरीदी की प्रक्रिया में किसानों को राहत मिलेगी। नए नियमों के तहत यदि कोई किसान खरीदी केन्द्र पर आता है और उसका टोकन कट गया तो 48 घंटे के भीतर अनाज की खरीदी समिति को करनी पडेग़ी। ऐसा नहीं करने पर समिति प्रबंधक से लेकर ऑपरेटर को भी जिम्मेदार माना जाएगा। किसान के लिए भी शर्त रखी गई है कि वह इस अवधि में खरीदी केन्द्र पर जरुर रहे। यह नियम जिले में लागू कर दिया गया है। ज्ञात हो कि गेहूं की खरीदी पांच अप्रैल से शुरू हुई है।

इस साल बम्पर पैदावार होने के कारण जिला प्रशासन ने करीब साढ़े चार लाख मैट्रिक टन गेहूं खरीदी का लक्ष्य तय किया है। इसके लिए 73 खरीदी केन्द्र तय किए गए हैं। लेकिन किसानों की यह परेशानी रही है कि कम्प्युटर से उनका टोकन तो कट जाता है लेकिन अनाज का उपार्जन नहीं हो पाता। धान के समय यही स्थिति रही। इससे उन्हें भारी तकलीफ उठानी पड़ी। कई किसान ऐसे हैं जिनकी उपज अब तक समिति ने नहीं ली है। ऐसे में उन्हें भुगतान तक नहीं किया गया है।

समिति प्रबंधक की जिम्मेदारी तय

जिले के जिन खरीदी केन्द्रों में यह प्रक्रिया अपनाई जाएगी। उसमें देरी के लिए समिति प्रबंधक से लेकर स्टाफ भी जिम्मेदार रहेगा। यदि समिति किसान का टोकन काटती है तो तय अवधि में उसे उपार्जन करना होगा। ऐसा नहीं होने पर समिति प्रबंधक को नोटिस और ऑपरेटर को सेवा से पृथक करने की कार्रवाई की जा सकती है। यही नहीं बार बार शिकायत पर प्रबंधक को निलंबित भी किया जाएगा।

 

फैक्ट फाइल
- जिले में 73 खरीदी केन्द्रों की गई है स्थापना।
- साढ़े चार लाख मैट्रिक टन गेहूं खरीदी का लक्ष्य।
- 54 हजार से अधिक किसानों ने कराया पंजीयन।
- 1840 रुपए गेहूं का समर्थन मूल्य किया तय।
- 35 से 45 क्विंटल प्रति हेक्टेयर गेहूं की खरीदी।

 

गेहूं खरीदी केन्द्रों के लिए नया नियम लागू किया गया है। इसमें टोकन कटने के 48 घंटे में गेहूं का उपार्जन समिति को करना पडेग़ा। ऐसा नहीं होने पर समिति और समिति प्रबंधक पर कार्रवाई की जाएगी।
सीएस जादौन, जिला आपूर्ति नियंत्रक

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned