घरेलू हिंसा का बड़ा कारण बन रहा अवैध संबंध

-अवैध संबंध के चलते ही युवक ने पिता और पत्नी को कुल्हाड़ी से काट डाला
-पिता और पत्नी की हत्या करने के बाद कुल्हाड़ी संग बैठा रहा दरवाजे पर
-हत्याकांड का खुलासा भी आरोपी ने खुद ही किया

By: Ajay Chaturvedi

Published: 03 Jul 2021, 11:21 AM IST

जबलपुर. घरेलू हिंसा का बड़ा कारण बन रहा अवैध संबंध। एक तरफ जहां संयुक्त परिवार भारतीय परंपरा की सबसे अहम् कड़ी रहा है। वहीं अब इस संयुक्त परिवार में घरेलू हिंसा के किस्से बढ़ने लगे हैं। और इसका प्रमुख कारण बन रहा है अवैध संबंध। सामाजिक तानेबाने को तोड़ने वाली ऐसी घटनाएं न केवल कानून बल्कि समाज शास्त्रियों के लिए बड़ी चुनौती के रूप में सामने खड़ी हो रही हैं। समाज शास्त्रियों की मानें तो मनोविज्ञैनिक विश्लेषण कर इस बड़ी समस्या का हल निकाला जा सकता है। इस पर गंभीर शोध की जरूरत है।

इस अवैध संबंध के चलते ही जबलपुर के बेलखेड़ा के गोकलाहार गांव में डबल मर्डर की घटना हुई। इसके तहत एक बेटे ने पिता और पत्नी को कुल्हाड़ी से काट कर मार डाला। वो भी पिता और पत्नी के अवैध संबंधों के चलते। बार-बार मना करने, समझाने के बाद भी परिस्थिति के न बदलने पर एक जवान बेट ने यह कदम उठाया है। पिता और पत्नी की हत्या करने वाला युवक खुद दो बच्चों का पिता है जिसमें एक जवान बेटा और एक बेटी है। ये घटना सामान्य नहीं है, उस युवा की मानसिक स्थिति का भी आंकलन करना होगा। साथ ही उस तीसरी पीढी की मानसिक दशा पर भी विचार करना होगा क्योंकि दादा व मां के संबंधों का उन किशोरवय बच्चों पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ा होगा। इस संबंध में समाज वैज्ञानिकों का कहना है कि ह्यूमन इंस्टिंग्स पर नियंत्रण न होना ही ऐसी घटनाओं को जन्म देता है। वो कहते हैं कि अगर ऐसा नहीं होता तो हत्या आरोपी, घटना की सूचना खुद अपने किसी सगे संबंधी को नही देता और न ही वह हत्या में प्रयुक्त हथियार के साथ बैठ कर पुलिस का इंतजार करता। वह खुद को हत्याआरोपी जरूर मानता है, पर घटना के वक्त वह अपनी भावनाओं पर काबू नहीं कर पाया जिसके चलते उसने ऐसी जघन्य वारदात को अंजाम दिया।

घटना के बाबत बताया जाता है कि पुलिस को शुक्रवार देर रात जबलपुर मुख्यालय से करीब 65 किलोमीटर दूर बेलखेड़ा के गोकलाहार गांव में डबल मर्डर की सूचना मिली। इस संबंद में अर्जुन सिंह लोधी ने पुलिस को बताया कि उसके भतीजे संतोष लोधी (35) ने शुक्रवार की देर रात अपने पिता और पत्नी की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी है। इतना ही नहीं इस हत्याकांड का खुलासा भी खुद ही किया और खुद हत्या में प्रयुक्त कुल्हाड़ी को लेकर दरवाजे पर बैठ गया। फिलहाल बेलखेड़ा पुलिस ने कुल्हाड़ी और आरोपी के खून से सने कपड़े जब्त कर लिए हैं।

बेलखेड़ा टीआई सुजीत श्रीवास्तव के अनुसार सूचना मिलते ही बेलखेड़ा पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची तो पाया कि संतोष लोधी रक्तरंजित कुल्हाड़ी के साथ घर के दरवाजे पर बैठा है। पुलिस ने उसे हिरासत में लेने के बाद पुलिस जब घर के अंदर पहुंची तो देखा कि एक कमरे में बिस्तर पर पिता अमान सिंह लोधी (65) लहूलुहान हालत में मृत पड़े थे, तो फर्श पर कविता लोधी (32) खून से लथपथ पड़ी थी। पूरे कमरे में खून फैला था।

हिरासत में लिए गए संतोष लोधी ने पुलिस को बताया कि पिता और पत्नी ने मर्यादा की सीमा लांघ दी थी जिसके कारण दोनों को मार डाला। बताया कि उसने तीन दिन पहले भी दोनों को आपत्तिजनक हालत में देखा था। ऐसे में पत्नी को समझाया था। बावजूद इसके शुक्रवार की रात दोनों ने फिर सीमा लांघी। पिता को पत्नी के कमरे से निकलता देख बौखला गया। पिता कमरे में सोने चले गए तो उसने कुल्हाड़ी उठाई और पहले पिता के गर्दन पर ताबड़तोड़ वार कर मार डाला। इसके बाद पत्नी को भी इसी तरह बेरहमी से गर्दन और सिर पर वार कर मार डाला।

बताया जा रहा है कि संतोष लोधी और कविता लोधी की शादी 15 साल पहले हुई थी। उनका एक 14 साल का बेटा और 12 साल की बेटी है। पिता के खूनी खेल का मंजर देख दोनों सन्न रह गए। पड़ोस में रहने वाले संतोष लोधी के चाचा अर्जुन लोधी दोनों बच्चों को अपने घर ले गए। हत्या के बाद संतोष ने ही चाचा को इसकी सूचना दी और हत्या की वजह बताया। बोला कि पत्नी व पिता को बहुत समझाया था, लेकिन दोनों नहीं माने।

Show More
Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned