IT RAID: नामी डॉक्टरों और डायग्नोस्टिक सेंटर पर इंकम टैक्स का छापा, हो सकता है बड़ा खुलासा

डॉक्टर्स-डायग्नोस्टिक सेंटर आयकर विभाग ने चार जगहों पर मारे छापे

By: Lalit kostha

Published: 28 Feb 2020, 12:53 PM IST

जबलपुर। मोटी फीस और जांच के नाम पर हजारों रुपए लेने वाले एक डॉक्टर और डायग्नोस्टिक सेंटर पर आयकर विभाग ने छापा मारा है। छापे के दौरान करोड़ों रुपए का लेनदेन सामने आने की बात कही जा रही है। सूत्रों की मानें तो जांच पूरी होने के बाद बड़ा खुलासा हो सकता है। एक अन्य डॉक्टर के घर, क्लीनिक में भी छापा मारा गया है।

 

doctor.jpg

जानकारी के अनुसार आयकर विभाग ने दो चिकित्सक, उनकी दवा फ र्म और एक डायग्नोस्टिक सेंटर में छापे की कार्रवाई के बाद आगे की जांच शुरू कर दी है। विभाग ने सभी को नोटिस जारी कर खातों में आई रकम और उसके स्रोत के बारे में जानकारी मांगी है। इसी प्रकार बैंकों से भी इनके खातों में हुए लेन-देन की जानकारी पत्र के माध्यम से मांगी है। आयकर विभाग ने भंवरताल गार्डन के समीप डॉ. राजीव सक्सेना की क्लीनिक में दबिश दी थी। उनकी चरगवां के पास स्थित दवा निर्माता कंपनी पर भी छापे की कार्रवाई की गई थी।

 

coronavirus-vial.jpg

विभाग ने इसी जगह पर स्थित न्यूरोलॉजिस्ट डॉक्टर तरुण नागपाल के क्लीनिक में भी छापा मारा था। वहीं ब्लूम चौक के पास स्थित चरक डायग्नोस्टिक सेंटर पर भी कार्रवाई की थी। इन जगहों पर विभाग को आर्थिक अनियमितताएं मिली हैं। सभी जगहों पर तैनात टीमों ने लेनदेन से संबंधित दस्तावेज बरामद कर जांच में ले लिए हैं। गुरुवार से इन दस्तावेजों की जांच पड़ताल शुरू की गई। विभाग ने सभी को नोटिस भेजकर जानकारी मांगी है कि उनके खातों में पैसा कहां से आया। आय के स्रोत की भी जानकारी मांगी गई है। ये भी पूछा है कि उस आधार पर आयकर रिटर्न में इनका उल्लेख क्यों नहीं किया गया। इसी प्रकार से बैंक खातों से भी जानकारी जुटाई जा रही है। आयकर विभाग की टीम जुटाए गए साक्ष्यों के आधार पर दिनभर पड़ताल में जुटी रही।

Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned