big breaking: रेलवे की रफ्तार पर वित्त मंत्री का ब्रेक, थम गए हैं काम

देशभर के रेलवे कान्ट्रेक्टर्स ने रोक दिया काम, जबलपुर रेल झोन के कई काम हुए ठप

By: deepak deewan

Published: 22 Aug 2017, 11:23 AM IST

जबलपुर। रेलवे मिनिस्टर सुरेश प्रभु रेलवे के सभी कामों को जल्द से जल्द पूरा करने की बात कर रहे हैं लेकिन वित्त मंत्री अरुण जेटली के जीएसटी ने उनके कामों पर ब्रेक लगा दिया है। जीएसटी के विरोध में देशभर के रेलवे कान्ट्रेक्टर्स ने अपना काम रोक दिया है। ऐसे में रेलवे के सभी चल रहे काम बंद हो गए हैं। रेलवे कान्ट्रेक्टर्स के इस कदम का जबलपुर झोन में सबसे ज्यादा प्रभाव पड़ा है।जबलपुर रेलवे झोन के कई काम बंद हो गए हैं।


सभी सिविल वर्क बंद
१ जुलाई को लागू हुआ जीएसटी अब रेलवे के विकास कार्यों में रोड़ा बन गया है। जीएसटी के विरोध में देशभर के रेलवे कांट्रेक्टर्स ने काम रोक दिया है। रेलवे कांट्रेक्टर एसोसिएशन के राष्ट्रीय सचिव रामसुजान गुप्ता बताते हैं कि रेलवे 1 जुलाई के पहले स्वीकृत हुए ठेकों पर भी12 फीसदी जीएसटी काट रही है जबकि नियमानुसार १ जुलाई के बाद हुए टेंडर पर ही12 फीसदी जीएसटी देय होगी। ठेकेदारों का कहना है कि करोड़ों की लागत के बाद भी उन्हें कुल 8-10 फीसदी ही लाभ होता है, ऐसे में 12 फीसदी जीएसटी देना उनके लिए संभव नहीं है। इसी कारण सभी कान्ट्रेक्टर्स ने रेलवे के चल रहे काम रोक दिए हैं।


रुक गए कई बड़े काम
रेलवे कान्ट्रेक्टर्स के इस कदम का जबलपुर झोन में सबसे ज्यादा प्रभाव पड़ा है। यहां चल रहे अनेक बड़े प्रोजेक्ट रुक गए हैं। नई लाइन के साथ ही ट्रेक इलेक्ट्रिफिकेशन का अहम काम चल रहा है जबकि कुछ जगहों पर डबल लाइन का काम भी चल रहा है। घंसौर से नैनपुर ब्राडगेज का काम भी रोक दिया गया है। मदनमहल में टर्मिनल बनाने का काम भी रोक दिया गया है। इतना ही नहीं ट्रैक मेंटेनेंस और प्लेटफार्म के फ्लोर की मरम्मत का काम तक रोक दिया गया है। रेलवे के पुराने ब्रिजों की मरम्मत तक नहीं की जा रही है।

GST
deepak deewan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned